आज 69000 भर्ती का नोटिफिकेशन जारी हो जाएगा

1) आज 69000 भर्ती का नोटिफिकेशन जारी हो जाएगा। टेट 2018 रिजल्ट जारी होने की ही प्रतीक्षा थी।
.
.
2) कोई कटऑफ नहीं, कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं।
.
.
3) डीएलएड 2015 भर्ती से लगभग बाहर। नोटिफिकेशन में कटऑफ डेट तो नहीं है लेकिन आवेदन की अंतिम तिथि तक उनका रिजल्ट आना मुश्किल।
.
.
4) शिक्षामित्र संगठनों से प्राप्त सूचना अनुसार टेट 2018 में 3.66 लाख लोगों में से 45,400 शिक्षामित्र पास हुए हैं।
.
.
5) कुल एसएम हुए 27,087 + 45,400 = 72,487 अब 69000 भर्ती में न जनरल के लिए कुछ है न ही ओबीसी एससी के लिए, न ही बीएड के लिए।
.
.
6) गुड़ दिखाकर डला मारा गया है। भारांक के विरुद्ध लड़ने पर 50-50 चांस है हमारे पास ही कई ऑर्डर्स हैं जिसमें सुप्रीम कोर्ट ने भारांक को स्टेट पालिसी बताकर सही ठहराया है।
.
.
7) भारांक 1981 रूल्स के अपेंडिक्स 1 में दिया गया है, जिसको ultravires घोषित करवाना होगा।
.
.
8) रूल्स को ultravires घोषित कराने के लिए स्टेट एक्ट उससे ऊपर, सेंट्रल एक्ट और उससे ऊपर कॉन्स्टिट्यूशन होता है।
.
.
9) संविधान के आर्टिकल 14, 16 और 21 को आधार बनाकर और आर्टिकल 32 का प्रयोग करते हुए सुप्रीम कोर्ट में सीधे याचिका डाली जा सकती है।
.
.
10) जो इस लड़ाई को लड़ने का इच्छुक हो वो बता दे हम दिल्ली में पूरा साथ देंगे। जीत 50-50 है। क्योंकि यहां मैटर्स कोर्ट के डिस्क्रेशन पर डिपेंड करता है।
.
.
11) हम 3 महीने से कह रहे थे नेगेटिव और 60% कटऑफ करा लो कोई नहीं निकला, कल भी विरोध और प्रोटेस्ट में बस 70 लोग पहुंचे अब भी यही कहेंगे कि अब भी GO और नोटिफिकेशन बदल सकता है लेकिन बात कालिदास मार्ग से बनेगी निशातगंज से नहीं।
.
.
12) और कुछ विशेष आरक्षण वाले लोगो ने भ्रमित किया हुआ है कि ओबीसी एससी का नुकसान नहीं है, कुछ महाज्ञानी पिछली भर्ती में भी कहते थे कि एसएम भारांक परीक्षा में जुड़ेगा हमारा विरोध करते थे जब अलॉटमेंट लिस्ट आई तो गायब हो गए। इस पोस्ट को सेव करलीजियेगा और जिस दिन 69000 की अलॉटमेंट लिस्ट जारी होगी उस दिन बात करेंगे। धन्यवाद।
.
~AG
.
.
PS: रूल्स के अगेंस्ट अंतरिम रिलीफ नहीं मिलता है न ही स्टे मिलता है केवल भर्ती कोर्ट के अधीन हो जाती है। जब तक रूल के vires को लेकर अंतिम निर्णय नहीं आता है तब तक रूल वैलिड माना जाता है इसलिए रास्ता कोर्ट के बाहर ही है। पोस्ट की बात समझ आयी हो तो कोचिंग छोड़कर कालिदास मार्ग पहुंचिये।

Loading...