Sep 5, 2018

शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा असफल भी ला रहे कोर्ट से आदेश, जांच कराएं: योगी


लखनऊ : 68,500 शिक्षक भर्ती में सफल अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र देने के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जो शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा में सफल नहीं हुए, वह भी कोर्ट से आदेश लेकर आ रहे हैं कि हमें भी नौकरी दीजिए। बगल में बैठे अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा डॉ. प्रभात कुमार को निर्देश दिया कि वह जांच कराएं कि यह आदेश कोर्ट का है या कहीं और का।
चिराग तले अंधेरा : योगी ने अपने बगल में बैठी बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनुपमा जायसवाल का नाम लेकर कहा कि प्रदेश के आठ आकांक्षी (अति पिछड़े) जिलों में शामिल श्रवस्ती के 120 विद्यालय शिक्षक विहीन हैं। यह बेसिक शिक्षा मंत्री के पड़ोस का जिला है यानि चिराग तले ही अंधेरा है। फिर कहा कि मंत्री का जिला बहराइच भी आकांक्षी जिलों में शामिल है। यहां भी वहीं स्थिति होगी।

जहां सरकार भेजे वहां जाइए: योगी ने चयनित अभ्यर्थियों को नसीहत दी कि वे जिद छोड़कर वहां जाएं जहां सरकार उन्हें भेजे। दलालों से वे दूर रहें। उनसे प्रदेश के आठ आकांक्षी जिलों में अपनी सेवाएं देने का आह्वान किया।
बचपन में सीखा था कि बाल छोटे रखने हैं: मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले शिक्षक बच्चों को सफाई से रहने की नियमित शिक्षा देते थे। उन्हें बताते थे कि बाल और नाखून साफ व छोटे रखने हैं। फिर मुस्कुराते हुए बोले, ‘इसलिए मैंने बचपन में ही सीख लिया था कि बाल छोटे रखने हैं।’ इस पर ठहाका लगा।1तीन हजार को नियुक्ति पत्र : कार्यक्रम में बेसिक शिक्षक भर्ती में चयनित 3000 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र दिये गए। मुख्यमंत्री ने लखनऊ समेत 16 जिलों के 32 अभ्यर्थियों को खुद नियुक्ति पत्र दिए।
शेष सफल अभ्यर्थियों को हर हाल में बुधवार को नियुक्ति पत्र वितरित करने का निर्देश दिया।
राज्य ब्यूरो, लखनऊ : आयोगों के प्रतिनिधियों के साथ होने वाली बैठक काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही थी। मुख्यमंत्री ने इस दौरान पूछा कि रिक्त पदों पर भर्ती के लिए परीक्षाएं समय से आयोजित न कराने और परिणाम रोकने की आखिर क्या वजह है। पुनर्गठन के बाद आयोगों में तेजी आने के बजाय कार्य शिथिल हैं। यह स्थिति ठीक नहीं है। इस अहम बैठक में उप्र लोकसेवा आयोग, उच्चतर शिक्षा सेवा चयन आयोग, माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड, परीक्षा नियामक प्राधिकारी इलाहाबाद, उप्र अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, पुलिस भर्ती बोर्ड आदि के अध्यक्ष, सचिव व अन्य प्रतिनिधि पहुंचे।समारोह में लखनऊ की शालिनी को नियुक्ति-पत्र देते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। साथ में बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल व बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह’जागरण


चेतावनी

इस ब्लॉग की सभी खबरें सोशल मीडिया से ली गई हैं, कृपया खबर का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें| इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है| पाठक ख़बरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा|