Sep 1, 2018

रिक्तियों के सापेक्ष आरक्षण के अनुरूप जिला आवंटन से, परीक्षा में सफल 6009 अभ्यर्थी चयन सूची से बाहर

इलाहाबाद : एनआइसी ने 40669 अभ्यर्थियों की ओर से दिए गए जिलों के विकल्प, उनके गुणांक और जिलों में उपलब्ध रिक्तियों के सापेक्ष आरक्षण के अनुरूप जिला आवंटन किया। इस प्रक्रिया में आरक्षित वर्ग के उच्च मेरिट वाले अभ्यर्थी अनारक्षित वर्ग की सीटें पाने में सफल में रहे। इससे लिखित परीक्षा में सफल 6009 अभ्यर्थी चयन सूची से बाहर हो गए हैं, इनमें से अधिकांश सामान्य वर्ग के हैं। अभ्यर्थी चयन सूची का विरोध कर रहे हैं। इस मामले को कोर्ट में भी चुनौती देने की तैयारी है।


■ जिलों में आज से काउंसिलिंग : सभी जिलों में शनिवार से शिक्षक भर्ती की काउंसिलिंग शुरू होगी। जिस अभ्यर्थी जो जिला आवंटित हुआ है उसे सारे अभिलेखों के साथ हिस्सा लेना है। जो अभ्यर्थी इसमें प्रतिभाग नहीं करेंगे, वे भी नियुक्ति से बाहर हो जाएंगे। तीन सितंबर तक चलने वाली काउंसिलिंग के लिए विस्तृत निर्देश दिए जा चुके हैं।


■ 923 प्रशिक्षु शिक्षकों के चयन को हरी झंडी :  लखनऊ : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती की नौवीं काउंसिलिंग में 803 और 10वीं काउंसिलिंग के 120 अभ्यर्थियों को प्रशिक्षु शिक्षक के तौर पर चयनित करने के लिए शासन ने हरी झंडी दिखा दी है। अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा डा. प्रभात कुमार ने बताया कि निदेशक बेसिक शिक्षा को निर्देश दिया गया है कि वे सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद इन अभ्यर्थियों को 15 सितंबर तक नियुक्ति पत्र जारी कर दें।‘शिक्षक भर्ती में 41556 पदों के सापेक्ष 40296 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। उनमें से 34600 को जिला आवंटित कर दिया गया है।

■ शेष 5696 अभ्यर्थी यदि सारी अर्हताएं पूरी करते हैं तो उन्हें नियुक्ति दी जाएगी, इस संबंध में एनआइसी से कहा गया है। शेष अभ्यर्थी किसी तरह की चिंता न करें उनका पूरा ध्यान रखा जाएगा।’- डा. प्रभात कुमार, अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा का ट्वीट

चेतावनी

इस ब्लॉग की सभी खबरें सोशल मीडिया से ली गई हैं, कृपया खबर का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें| इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है| पाठक ख़बरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा|