Aug 19, 2018

ताकि अगले सत्र में बच्चों को समय से मिलें किताबें-यूनिफॉर्म, बेसिक शिक्षा निदेशालय ने शासन को चालू वित्तीय वर्ष के अनुपूरक बजट


लखनऊ : शासन की मंशा है कि अगला शैक्षिक सत्र शुरू होते ही परिषदीय स्कूलों के बच्चों को किताबें, यूनिफॉर्म, जूते-मोजे और स्कूल बैग मिल जाएं। यह व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए बेसिक शिक्षा निदेशालय ने शासन को चालू वित्तीय वर्ष के अनुपूरक बजट में 1621 करोड़ रुपये का प्रावधान करने का प्रस्ताव भेजा है।

सरकार प्रत्येक शैक्षिक सत्र में परिषदीय स्कूलों के हर बच्चे को मुफ्त में किताबें, यूनिफॉर्म और जूते-मोजे मुहैया कराती है। वहीं परिषदीय स्कूलों की कक्षा एक और छह के सभी बच्चों व नव प्रवेशित छात्रों तथा अनुदानित प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों के सभी बच्चों को निश्शुल्क स्कूल बैग मुहैया कराती है। बीते कई सत्रों से परिषदीय स्कूलों में बच्चों को सामान मिलने में काफी विलंब हो रहा है। मुख्य सचिव डॉ.अनूप चंद्र पांडेय ने निर्देश दिया है कि अगले साल बच्चों को बांटी जाने वाली सामग्री पहली अप्रैल 2019 को अगले सत्र की शुरुआत से पहले ही जिलों में पहुंच जाएं । इसके लिए बेसिक शिक्षा निदेशालय ने विधानमंडल के मॉनसून सत्र में पेश किये जाने वाले अनुपूरक बजट में 1621 करोड़ रुपये का प्रावधान करने का प्रस्ताव शासन को भेजा है।

चेतावनी

इस ब्लॉग की सभी खबरें सोशल मीडिया से ली गई हैं, कृपया खबर का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें| इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है| पाठक ख़बरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा|