Aug 23, 2018

फर्जीवाड़ा कर बने 19 शिक्षकों के खिलाफ दर्ज होगी एफआइआर, प्रतापगढ़ बीएसए ने खंड शिक्षा अधिकारी को दिया मुकदमा दर्ज कराने का आदेश


प्रतापगढ़ : जिले में 19 फर्जी शिक्षामित्रों के शिक्षक बनने के मामले में बीएसए ने खंड शिक्षा अधिकारियों को उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने का आदेश दिया है। इसके साथ ही वेतन में लिए गए भुगतान की रिकवरी भी करायी जाएगी।
फर्जीवाड़ा कर शिक्षक बनने वाले सभी 19 लोगों के नियुक्ति पत्र में डिस्पैच नंबर नहीं मिला था। जब नियुक्ति पत्रों की जांच कराई गई तो उस डिस्पैच नंबर पर दूसरे शिक्षक का नाम पाया गया। 26 माह तक वेतन लेने के बाद जब सरकार ने शिक्षा मित्र से शिक्षक बने लोगों का समायोजन रद कर दिया तब फर्जीवाड़े का राजफाश हुआ। पाया गया कि 19 लोगों ने फर्जी ढंग से शिक्षक पद पर समायोजन करा लिया। जांच के बाद बेसिक शिक्षा विभाग ने इन सबको नोटिस दी। यह नोटिस इन फर्जी शिक्षकों के घर पर न मिलने के कारण वापस लौट आयी। इसके बाद विभाग ने समाचार पत्रों के जरिए इन्हें नोटिस देकर जवाब मांगा। यह समय सीमा भी बीत गई, लेकिन कोई लौट के नहीं आया। बीएसए अशोक कुमार सिंह ने खंड शिक्षा अधिकारियों को सभी 19 लोगों के विरूद्ध थानों में मुकदमा दर्ज कराने का आदेश दिया है।जिले के परिषदीय विद्यालयों में फर्जीवाड़ा कर शिक्षा मित्र से शिक्षक बनने वाले 19 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की तहरीर खंड शिक्षा अधिकारियों के माध्यम से थाने भेजी गई है। 1अशोक कुमार सिंह, बीएसए


चेतावनी

इस ब्लॉग की सभी खबरें सोशल मीडिया से ली गई हैं, कृपया खबर का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें| इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है| पाठक ख़बरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा|