वाह, परिषदीय विद्यालय हो तो ऐसा
waah, parishadiy vidyalay hoto aisa


गोरखपुर:- एक ऐसा परिषदीय विद्यालय जहां के बच्चे हर फन में पारंगत होने को आतुर हैं। यहां की कक्षाएं किसी हाई प्रोफाइल कांवेंट की कक्षाओं से रेस करती नजर आती हैं। कमरों की दीवारें भी ज्ञान बांटती दिखती हैं। सुबह की प्रार्थना बैंड की धुन पर होती है। स्टार पाने के लिए यहां के छात्रों में होड़ मची होती है। ऐसा ही है खोराबार क्षेत्र का पूर्व माध्यमिक विद्यालय मोतीराम अड्डा। अध्यापकों की मेहनत से यह विद्यालय अब कांवेंट विद्यालयों को पीछे छोड़ने की राह पर आगे बढ़ रहा है। मोतीराम अड्डा चौराहे से कुछ दूरी पर स्थित यह विद्यालय पिछले कुछ महीनों में तेजी से विकास कर रहा है। विद्यालय की शिक्षक आभा दुबे ने प्रधानाध्यापक के रूप में कार्यभार संभालने के बाद विद्यालय की स्थिति को बदलने की ठानी। उनके इस सकारात्मक प्रयास को ग्राम प्रधान ओमप्रकाश मौर्य का भरपूर सहयोग मिला और विद्यालय की दशा ही बदल गई। जर्जर कक्षों को मजबूत और आकर्षक बना दिया गया है। प्रधानाध्यापक ने विद्यालय से बच्चों के फर्जी नामों को छांटा और उसे उपस्थिति पंजिका से बाहर कर दिया। अपनी टीम के साथ आभा विद्यालय को आगे बढ़ाने में लगी हैं। आलम यह है कि सोमवार को बिजली विभाग के एक कर्मचारी विनोद मिश्र अपनी बेटी संजना मिश्र का प्रवेश विद्यालय में कराने पहुंचे। संजना ने कक्षा पांच तक की पढ़ाई एक कांवेंट विद्यालय से पूरी की है। बच्चों के बीच प्रतियोगिता की भावना विकसित करने के लिए उन्हें अच्छे काम व पढ़ाई में बेहतर करने पर स्टार मार्क किया जाता है। इस व्यवस्था का बच्चों में बहुत क्रेज है।पूर्व माध्यमिक विद्यालय मोतीराम अड़डा,खोराबार कक्षा में पढ़ाती गणित की शिक्षिका ’ जागरणमैं इसी विद्यालय से पढ़ा हूं। विद्यालय की दशा काफी खराब थी। यहां के अध्यापक अच्छा प्रयास करते हैं। मैंने भी विद्यालय को सुंदर बनाने की पूरी कोशिश की है। इसे और बेहतर बनाया जाएगा।

प्रार्थना सभा में नैतिक शिक्षा

प्रार्थना सभा में बच्चों को नैतिक शिक्षा दी जाती है। कक्षा के मॉनीटर छात्र-छात्रओं के बाल, नाखून, ड्रेस आदि की जांच करते हैं। हिन्दी व अंग्रेजी में स्वच्छता आदि की प्रतिज्ञा होती है। आदर्श वाक्य सुनाए जाते हैं। समाचारों से अवगत कराया जाता है। सोमवार व शनिवार को बैंड की धुन पर पीटी होती है।
चार महीने पहले प्रधानाध्यापक के रूप में कार्यभार संभाला। विद्यालय को बेहतर बनाने की कोशिश जारी है। स्टाफ का पूरा सहयोग मिलता है। इस विद्यालय को एक ब्रांड बनाने की इच्छा है।

waah, parishadiy vidyalay hoto aisa

पूर्व माध्यमिक विद्यालय मोतीराम अड्डा सुविधाओं के साथ पढ़ाई में भी अव्वल


व्यक्तित्व विकास के कार्यक्रमों की भी भरमार

इस विद्यालय में व्यक्तित्व विकास के कार्यक्रम बड़े पैमाने पर चलाए जाते हैं। नो बैग डे के दिन आर्ट-क्राफ्ट, संगीत आदि का प्रशिक्षण दिया जाता है। बच्चों के लिए विद्यालय के पास अपना साउंड सिस्टम भी है। बच्चों के बीच सामान्य ज्ञान, भाषण व वाद-विवाद की प्रतियोगिताएं भी कराई जाती हैं। सांस्कृतिक कार्यक्रमों को लेकर भी इस विद्यालय के बच्चे खासा उत्साहित रहते हैं।

basic shiksha basic shiksha news app basic shiksha current news basic shiksha latest news
basic shiksha news basic shiksha board basic shiksha parishad lucknow


विद्यालय में हैं ये सुविधाएं1आकर्षक कक्षाएं, सभी बच्चों के लिए डेस्क-बेंच, कक्षाओं में पंखे, खेलकूद के सामान, पीटी के लिए ड्रम, प्रार्थना के लिए म्यूजिक सिस्टम, पुस्तकालय, क्रॉफ्ट व संगीत कक्ष, नवाचार, टीएलएम कॉर्नर, हाथ धोने का स्थान आदि।
July 26, 2018

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget