Jul 29, 2018

प्रमाण पत्र जांच से खुलेगी फर्जी शिक्षकों की पोल

प्रमाण पत्र जांच से खुलेगी फर्जी शिक्षकों की पोल

pramaan patra jaanch se khulegi farzi shikshakon ki pol



जागरण संवाददाता, गोरखपुर : फर्जी शिक्षकों को चिन्हित करने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग अब सभी शिक्षकों के विशिष्ट बीटीसी, बीटीसी, अन्य प्रशिक्षण योग्यता व टीईटी परीक्षा के अंकों का सत्यापन कराएगा।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को पत्र लिखकर शिक्षकों का प्रशिक्षण प्रमाण पत्र व अंकपत्र उपलब्ध कराने को कहा है। अंकपत्रों व प्रमाण पत्रों की प्रमाणित छायाप्रति भी मंगायी जा रही है। ये सभी प्रमाण पत्र सचिव परीक्षा नियामक इलाहाबाद को भेजे जाएंगे। वहीं इन प्रमाण पत्रों की सत्यता की जांच होगी। बीएसए भूपेंद्र नारायण सिंह ने बताया कि खंड शिक्षा अधिकारियों को शिक्षकों का नाम, उनके पिता का नाम, रोल नंबर, परीक्षा, बैच, उत्तीर्ण वर्ष, प्राप्तांक व पूर्णाक आदि उपलब्ध कराना होगा।
pramaan patra jaanch se khulegi farzi shikshakon ki pol
स्नातक व परास्नातक प्रमाण पत्रों की भी होगी जांच


प्रशिक्षण प्रमाण पत्रों की जांच के बाद स्नातक व परास्नातक प्रमाण पत्रों की भी जांच करने की तैयारी है। एक बार सभी अध्यापकों के प्रमाण पत्रोंे की जांच करने की योजना है।

चेतावनी

इस ब्लॉग की सभी खबरें सोशल मीडिया से ली गई हैं, कृपया खबर का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें| इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है| पाठक ख़बरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा|