शिक्षकों का वेतन रोकने की जांच

July 21, 2018
Basic Shiksha Latest News, Basic Shiksha Current News, vetan Rokane ki Jaanch
शिक्षकों का वेतन रोकने की जांच

जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : के शिक्षकों की जांच के नाम पर बजट रहते हुए रोके गए वेतन संबंधी प्रकरण को मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार उपाध्याय ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने उच्चस्तरीय जांच के लिए जिलाधिकारी को संस्तुति पत्र भेजा है।

उत्तर प्रदेशीय सहायता प्राप्त अनुसूचित जाति प्राथमिक शिक्षक एसोसिएशन का प्रतिनिधि मंडल शुक्रवार को मुख्य विकास अधिकारी से मिला और चार माह के बकाया वेतन भुगतान के संबंध में शिकायती पत्र दिया। आरोप लगाया कि जिला समाज कल्याण अधिकारी शिक्षकों का वेतन रोककर जांच करा रहे हैं, जबकि जांच के उपरांत फरवरी माह तक का वेतन दिया गया था। लिखित व मौखिक निवेदन के बाद भी सेवामुक्त शिक्षकों एवं सेवारत शिक्षकों के बकाए वेतन की धनराशि न तो दी गई और न ही शासन से मांग पत्र भेज कर मंगाया जा रहा है। सीडीओ ने जिला समाज कल्याण अधिकारी से जांच के नाम पर भरे जाने वाले तथाकथित प्रारूप को भी तलब किया। जवाब मांगा कि जब जांच चल रही है तो पिछले भुगतान किस आधार पर किए जा रहे हैं। उधर, शिक्षकों का कहना था कि यदि 29 जुलाई तक वेतन और बकाया वेतन एरियर की मांग कर शासन से धन नहीं मंगाया तो शिक्षक 30 जुलाई से धरना-प्रदर्शन करने को बाध्य होंगे। जिलाध्यक्ष हंसराज यादव, उपाध्यक्ष मधुबाला आदि थे।

मुख्य विकास अधिकारी ने जिलाधिकारी को भेजी संस्तुति

जिला समाज कल्याण अधिकारी से मांगा गया जवाब

Basic Shiksha Latest News, Basic Shiksha Current News, vetan Rokane ki Jaanch