Jul 29, 2018

डेंगू-मलेरिया रोगियों के लिए अलग वार्ड

डेंगू-मलेरिया रोगियों के लिए अलग वार्ड

dengu ke liye alag ward


मरीजों के लिए जिला चिकित्सालय में एक वार्ड तथा पीएचसी व सीएचसी पर 10-10 बेड आरक्षित

अंबेडकरनगर : जेई, डेंगू व मलेरिया जैसी संक्रामक बीमारी से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग की तैयारी प्रारंभ हो गई है। इसमें सर्वप्रथम मलेरिया सप्ताह मनाया गया। इसके तहत ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को जानकारी देने के साथ ही विभाग ने जिला चिकित्सालय में एक वार्ड तथा पीएचसी व सीएचसी पर 10-10 बेड आरक्षित किये जाएंगे।


वहीं रोगियों की जांच के लिए जिला चिकित्सालय में पैथालॉजी के अलावा निजी संस्था चंदन डायग्नोसिस्ट सेंटर को भी सरकार ने संबद्ध किया गया है। इतना ही नहीं स्वास्थ्य केंद्रों पर मरीजों के जांच के लिए व्यवस्था सुद्ढ़ किया जाएगा। स्वास्थ्य केंद्रों के आसपास व नालियों में दवाओं का नियमित छिड़काव करने का निर्देश दिया गया है। इसमें लापरवाही से किसी भी मरीज की मौत होती है तो संबंधित के विरूद्ध कार्रवाइ भी की जाएगी। इस बावत प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सालिकराम पासवान ने जानकारी देते हुए बताया कि संक्रामक रोगों के खात्मे के लिए गांवों में सफाई के लिए जिला पंचायतराज विभाग तथा शुद्ध पेयजल मुहैया कराने के लिए जल निगम को जिम्मेदारी सौंपी गई है। इस दौरान खराब हैंडपंप की मरम्मत भी किया जाएगा। उन्होंने जिला विद्यालय निरीक्षक तथा बेसिक शिक्षा अधिकारी को प्रत्येक विद्यालय में एक-एक शिक्षक को वेक्टर जनित रोगों से बचाव की जानकारी देने के लिए नामित करने को कहा गया है। जो बच्चों को सफाई के साथ उक्त् रोगों के बचाव के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे। डेंगू नियंत्रण कक्ष बनाने के साथ स्वास्थ्य केंद्रों पर 10-10 मच्छरदानी सहित बेड को आरक्षित कर दवाओं का स्टाक भी सुरक्षित किया जा रहा है। दवा व मशीनों की व्यवस्था पूर्ण कर ली गई है और छिड़काव भी शुरू किया जाएगा। इस अभियान के तहत प्रत्येक रविवार को ड्राई डे मनाया जाएगा। इस दिन अपने कूलर, गमलों, फ्रिज के ट्रे में पानी को बदलें एवं घरों के आसपास जमे पानी को हटाएंगे। सीएमओ ने बताया कि मलेरिया, डेंगू व अन्य संक्रामक रोग से लापरवाही में मौत भी हो सकती है, इसलिए सभी अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए उक्त रोगों के प्रति सचेत, सर्तक व जागरूक रहें।
dengu ke liye alag ward

जिला चिकित्सालय में आरक्षित डेंगू वार्ड में बंद ताला ’ जागरणस्कूली बच्चों को सफाई के प्रति किया जागरूक


स्किल से स्वच्छता पखवाड़े के तहत जनशिक्षण संस्थान द्वारा प्राथमिक विद्यालय पतौना में छात्रों को साफ-सफाई के प्रति जागरूक किया गया। इस मौके पर ग्राम प्रधान विनोद कुमार सिंह ने कहा कि स्वच्छता हमारे शरीर को स्वाथ्य रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। हमें अपने घरों के आसपास सफाई रखनी चाहिए इससे संक्रामक रोग फैलने की अंशका नहीं रहती है। खाना खाने से पूर्व हाथ अवश्य धुलें। संस्थान के निदेशक अरूण कुमार शाही ने सभी बच्चों से सफाई के साथ पेड़-पौधों की देखभाल करने के प्रति जागरूक किया। इस मौके पर प्रधानाचार्य किरन, अभय कुमार, रेखा वर्मा, चेतन सक्सेना, शंभूलाल मौर्य, देवेश मिश्र आदि मौजूद रहे। संस्थान द्वारा 29 जुलाई को आनंद नगर केंद्र पर व्यवसायिक कार्यक्रम प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा।

चेतावनी

इस ब्लॉग की सभी खबरें सोशल मीडिया से ली गई हैं, कृपया खबर का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें| इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है| पाठक ख़बरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा|