इस स्कूल में प्रवेश के लिए होती सिफारिश, सम्मानित हो रहे प्रधानाध्यापक

इस स्कूल में प्रवेश के लिए होती सिफारिश
is school me pravesh ke liye hoti hai sifarish

संसू, गोंडा : अगर आप से कहें कि बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय स्कूल में बच्चे का एडमिशन कराने के लिए अभिभावक सिफारिश कराते हैं तो आप क्या सोचेंगे। थोड़ा अजीब लगेगा, लेकिन ये सौ फीसद सच है। शिक्षा क्षेत्र कर्नलगंज के प्राथमिक विद्यालय धौरहरा का कुछ ऐसा ही हाल है।

आधुनिक सुविधाओं से लैस इस स्कूल में अभिभावक बच्चों का दाखिला कराने के लिए लालायित रहते हैं। कारण इसमें स्मार्ट क्लास से लेकर अन्य आधुनिक सुविधाएं हैं। ऐसे में यहां आठ से दस किलोमीटर दूर से अभिभावक बच्चों का दाखिला कराने आते हैं। इसी के चलते वर्तमान में स्कूल में 320 छात्र शिक्षा ग्रहण कर रहे। अब नामांकन प्रक्रिया ठप, फिर भी हर दिन में नामांकन कराने वालों का तांता लगता है। इस स्कूल में दो वर्ष से डिजिटल बुक के जरिए छात्रों को अक्षर ज्ञान कराया जाता है। इसके अलावा निजी स्कूल की तरह ही सफाई की व्यवस्था है। सीसीटीवी कैमरे आदि लगे हैं। सोलर पैनल से स्कूल को बिजली मुहैया कराई गई है। छात्रों के बैठने के लिए मेज, कुर्सी के साथ ही उनकी बायोमीट्रिक उपस्थिति दर्ज होती है। कक्षा एक से लेकर पांच तक के छात्र बेहतर तरीके से पाठ्यक्रमों को समझते हैं। प्रधानाध्यापक रवि प्रताप सिंह का कहना है कि अध्यापक सही तरीके से दायित्वों का निर्वहन करें तो प्राइवेट स्कूल फेल हो जाएंगे।

गोंडा कर्नलगंज के प्राथमिक विद्यालय धौरहरा में बच्चों को ग्रुप में पढ़ाते प्रधानाध्यापक रवि प्रताप सिंहकर्नलगंज के प्राथमिक विद्यालय धौरहरा जिले को गौरवांवित करने वाला स्कूल है। यहां सभी प्रकार की सुविधाएं हैं। प्रधानाध्यापक रवि प्रताप सिंह का कार्य प्रशंसनीय है।

सम्मानित हो रहे प्रधानाध्यापक

परिषद की वेबसाइट पर विद्यालय का चित्रण किया जा चुका है। वहीं यहां के प्रधानाध्यापक रवि प्रताप सिंह को बीएसए से लेकर डीएम, सचिव परिषद व शासन स्तर पर सम्मानित किया जा चुका है। उन्हें देश भर के विभिन्न प्रशिक्षण संस्थानों में आयोजित होने वाले प्रशिक्षण कार्यक्रमों में बुलाया जाता है।


is school me pravesh ke liye hoti hai sifarish
July 24, 2018

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget