Jul 26, 2018

आंबेडकर विद्यालयों में 72 अध्यापक मिले फर्जी

आंबेडकर विद्यालयों में 72 अध्यापक मिले फर्जी
ambedakar vidyalayon me 72 adhyapak farzi mile

मऊ : प्रदेश सरकार ने फर्जी अध्यापकों की जांच कर कार्रवाई के लिए शासनादेश जारी दिया है। यहां फर्जी नियुक्ति के बाद करोड़ों का गबन साबित होने के बाद भी समाज कल्याण विभाग बचाव की मुद्रा में है। अनुदानित आंबेडकर विद्यालयों में बड़े पैमाने पर शासनादेश का उल्लंघन करते हुए फर्जी अध्यापकों की नियुक्ति की गई थी। जांच कमेटी की रिपोर्ट के मुताबिक जनपद में 72 अध्यापकों की नियुक्ति में बेसिक शिक्षा विभाग सहित शासन से भी अनुमोदन नहीं लिया गया पाया गया। इसकी पूरी रिपोर्ट बनाकर बेसिक शिक्षा अधिकारी ने प्रशासन द्वारा गठित कमेटी के सचिव जिला समाज कल्याण अधिकारी सहित जिलाधिकारी को सौंप दी है। जांच में पाया गया कि 49 अध्यापकों की नियुक्ति में बेसिक शिक्षा कार्यालय से कोई अनुमोदन नहीं लिया गया मिला। पूरे अभिलेखों के मिलाने में जब नियुक्ति कहीं से भी सही नहीं पाई गई तो बेसिक शिक्षा अधिकारी ने 49 अध्यापकों की रिपोर्ट प्रशासन की गठित कमेटी को भेज दी। बाकी बचे अध्यापकों की जांच के लिए अभिलेख खंगाले गए। इसमें कुल 72 अध्यापक ऐसे पाए गए जिनका बेसिक शिक्षा विभाग से अनुमोदन नहीं हुआ था। बीएसए ओपी त्रिपाठी ने बताया कि विभाग की त्रि-स्तरीय कमेटी द्वारा पत्रवली की जांच में सहायक अध्यापकों का अनुमोदन नहीं मिला है।

इससे यह मामला फर्जी प्रतीत होता है। इसकी रिपोर्ट जिला समाज कल्याण अधिकारी को सौंप दी गई है।

ambedakar vidyalayon me 72 adhyapak farzi mile

चेतावनी

इस ब्लॉग की सभी खबरें सोशल मीडिया से ली गई हैं, कृपया खबर का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें| इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है| पाठक ख़बरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा|