बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

जनवरी 07, 2018

लखनऊ : अब आधार से लिंक होगा खाता । ITI ट्रेनीज का स्कॉलर सीधे उनके खाते में,

हिन्दुस्तान टीम, लखनऊ आईटीआई संस्थानों में पढ़ने वाले बच्चों को अब छात्रवृत्ति न मिलने की परेशानियों से गुजरना नहीं पड़ेगा। इसके लिए प्रशिक्षण एवं सेवायोजन कार्यालय ने उनकी छात्रवृत्ति सीधे खाते में जमा कराने की तैयारी की है।दरअसल, प्रधानमंत्री की डिजिटल ट्रांजेक्शन योजना को बढ़ावा देने के लिए आईटीआई निदेशालय ने एक योजना बनाई है। इस योजना के तहत आईटीआई करने वाले बच्चों की छात्रवृत्ति सीधे ऑनलाइन ट्रांसफर होगी। अभी तक आईटीआई में पढ़ने वाले बच्चों को छात्रवृत्ति पाने में परेशानियां उठानी पड़ती थी। फार्म न भर पाने की दशा में अधिकांश बच्चे अपनी छात्रवृत्ति पाने से वंचित रह जाते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। निदेशालय ने छात्रों को ऑनलाइन छात्रवृत्ति उपलब्ध कराने की तैयारी कर ली है।

सीधे खाते में जमा होगी छात्रवृत्ति

अभी तक छात्रों को अपनी छात्रवृत्ति के लिए प्रधानाचार्य कार्यालय से लेकर निदेशालय तक के चक्कर लगाने होते थे, जिसमें छात्रों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। इसके निदान के लिए आईटीआई निदेशालय बच्चों के आधार नंबर का डाटा समाज कल्याण के साथ शेयर करने जा रहा है, जिसके बाद समाज कल्याण आधार नंबर से बच्चों के एकाउंट का पताकर छात्रवृत्ति को सीधे उनके खाते में जमा करेगा।

आधार नंबर होगा अनिवार्य

आईटीआई दाखिले में अब छात्रों को अपने आधार नंबर की जानकारी देना अनिवार्य होगा। बिना आधार नंबर के छात्रों का प्रवेश मान्य नहीं होगा। ऑनलाइन भर्ती प्रक्रिया में शामिल होने वाले छात्र अपने सभी प्रपत्रों के साथ आधार नंबर की जानकारी भी आईटीआई को उपलब्ध करायेंगे छात्रवृत्ति मिलने की समस्याएं बनी हुई थीं। अब आधार नंबर बैंक एकाउंट से जुड़े होते हैं, जिसके चलते छात्रवृत्ति को सीधे खाते में जमा कराने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए समाज कल्याण से बात चल रही है राजेंद्र प्रसाद, निदेशक, प्रशिक्षण एवं सेवायोजन निदेशालय।

लखनऊ : अब आधार से लिंक होगा खाता । ITI ट्रेनीज का स्कॉलर सीधे उनके खाते में, Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Staff

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।