बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

सितंबर 26, 2017

UPTET Shikshamitra : कितना सच ? बोलबचन या फिर बात में हैं दम ! शिक्षा मित्र निकल जायँगे वो सीट बीएड टेट वालों को मिलेंगी ? : ऋषि श्रीवास्तव

सुप्रभात मित्रों

दो शब्द हमारे इन टेट नेताओं के लिए जिन्होंने हमें 841 के आधार पर नौकरी दिलवाने के हसीन स्वप्न दिखाए। कुछ नेताओं द्वारा यह बताया गया है शिक्षा मित्र निकल जायँगे वो सीट बीएड टेट वालों को मिलेंगी सम्पूर्ण समयोजन होगा। पता नही हमारे इन अग्रणी टेट नेताओं से क्या गलती हो गयी कि 72825 की बची हुई सीट भी स्टेट को लिबर्टी देकर अपने तरीके से भरने को कह दिया गया। जबकि सायद पैसा देने में तो शायद बेरोजगारो ने कोई कमी नही छोड़ी।

एक impleadment एप्लीकेशन में शामिल होने के लिए 1000 से 5000 रुपये तक दिए उसके बाद कुछ कमी रह गयी तो अपना वेरिफिकेशन करवाया। जब आर्डर एकॉर्डेंस टू लॉ नही आया तो आर्डर में मॉडिफिकेशन क्लेरिफिकेशन और रिव्यु में भी शामिल होने तक के लिए 2 से 5000 तक रुपये दिया। कहा कमी रह गयी क्यो समायोजन नही हुआ क्यो हर टेट अभ्यर्थी को नौकरी नही मिली इसकी समीक्षा टेट नेताओं को करनी चाहिए साथ मे टेट अभ्यर्थियों को भी। आपको जानकारी लेनी चाहिए की अब वो दुर्गेश प्रताप सिंह की कलम से, वृजेन्द्र कश्यप जी की कलम, कपिल देव लाल बहादुर की कहावत कोशिश करने वालो की हार नही होती, मेरठ निवासी राणा जी का टेलीविज़न शो, अजय ठाकुर और कमलकान्त जी का जय महाकाल, मयंक तिवारी जी की कलम से, शशांक सोलंकी और प्रवीण श्रीवास्तव जी का पूर्ण samayajon, रामकुमार पटेल जी का लम्बा कुर्ता और वर्गीकरण पर सभी को नौकरी। मित्रों अपने नेताओ से जिक्र अवश्य करें कि जो फ़ाइल वेरिफिकेशन के लिए जमा हुई थी और जियो आने के लिए जो पैसे जमा हुए थे वो शाशनदेश अब तक क्यो नही आया और किस अनुभाग में फ़ाइल फसी हुई है।

दो शब्द इन टेट के महान क्रांतिकारियों के लिए अवश्य लिखें नाम दे रहा हूँ
1- मयंक तिवारी
2- हिमान्शु राणा
3- रामकुमार पटेल
4- अजय ठाकुर
5- कमलकान्त
6- शशांक सोलंकी
7 - प्रवीण श्रीवास्तव
8- कपिल देव बहादुर
9- वृजेन्द्र कश्यप
बांकी इनके साथ मे जो चीलू पीलू लगे थे जो छुटभैया नेता थे। उनके लिये भी दो शब्द लिखें।

इस समय जिनके नाम दिए हैं आधे तो आपकी मेहनत की कमाई से अपनी नौकरी बचाने में लगे है। जाने कब डिविज़नल बेंच पूरी की पूरी मेरी अपील पर 841 उड़ा दें। मेरी तरफ से सिर्फ एक वकील बहस कर रहे है और 841 कि तरफ से पूरा हाइकोर्ट का टॉप सीनियर उतरा हुआ है लेकिन सच सच होता है फर्जी नियुक्तियां ज्यादा दिन नही चलेंगी यहाँ नही तो माननीय सुप्रीम कोर्ट में खत्म होँगी।
आपका शुभेछु
ऋषि श्रीवास्तव


UPTET Shikshamitra : कितना सच ? बोलबचन या फिर बात में हैं दम ! शिक्षा मित्र निकल जायँगे वो सीट बीएड टेट वालों को मिलेंगी ? : ऋषि श्रीवास्तव Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Kamal Singh Kripal

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।