बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

नवंबर 06, 2016

अन्तिम तारीख बीती, नहीं बन पाए यूपी बोर्ड के परीक्षा केन्द्र


   
लखनऊ।
यूपी बोर्ड हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की वर्ष 2017 की परीक्षा के लिए केंद्रों का निर्धारण शनिवार तक नहीं हो पाया है। बोर्ड ने चयनित परीक्षा केन्द्रों की सूची का प्रकाशन करने की तिथि 5 नवम्बर तय की थी।

केन्द्र तय नहीं हो पाने के लिए सपा की रथ यात्रा और जयंती समारोह को वजह बताया जा रहा है।

यूपी बोर्ड हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए केंद्रों के निर्धारण के लिए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से तय की गई व्यवस्था पटरी से उतर गई है।

माध्यमिक शिक्षा परिषद ने बीते 13 अक्टूबर को यूपी बोर्ड परीक्षाओं के लिए हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए केंद्र बनाने की नीति बनाई थी। इसमें जिला स्तरीय समिति से लेकर मंडल स्तर तक केंद्रों के निर्धारण की समय सीमा तय निर्धारित की गई थी।

जारी नीति के अनुसार जिला स्तर पर 25 अक्टूबर तक परीक्षा केंद्रों का निर्धारण कर उनकी सूची 5 नवंबर तक जिला विद्यालय निरीक्षक को प्रकाशित करनी थी।

परीक्षा केन्द्र निर्धारित करने का दायित्व जिला प्रशासन पर था, पर अधिकारियों की लापरवाही के कारण केंद्रों के निर्धारण की प्रक्रिया बहुत व विलम्ब से प्रारम्भ हुई। हालात यह है कि जिस तिथि को केंद्रों का निर्धारण किया जाना था।

उस दिन जिला प्रशासन केन्द्र बनाने के लिए पहली बैठक बुलाई। उसमें सभी एसडीएम को केंद्रों के स्थलीय निरीक्षण कर 2 नवंबर तक अपनी रिपोर्ट पेश करने को कहा गया। इसके बाद 3 या 4 नवंबर को परीक्षा केंद्रों के निर्धारण की दूसरी बैठक होनी थी, यह बैठक नहीं हो पाई।

सूत्रों का कहना है कि अधिकारियों ने समाजवादी पार्टी की विकास रथ यात्रा और रजत जयंती समारोह में व्यस्त होने का हवाला देते हुए उक्त बैठक को टाल दिया है।

अन्तिम तारीख बीती, नहीं बन पाए यूपी बोर्ड के परीक्षा केन्द्र Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।