बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

नवंबर 11, 2016

लखनऊ: अधिकारी ट्रेनिंग में, बोर्ड परीक्षा के केन्द्र फंसे,यूपी बोर्ड,चौथी बार टल गई परीक्षा केन्द्र निर्धारण की प्रक्रिया


लखनऊ।
जिला प्रशासन ने यूपी बोर्ड परीक्षा केन्द्र निर्धारण का मजाक बना दिया है। यहां के अधिकारियों की उपस्थिति न हो पाने के कारण केन्द्र निर्धारण के लिए प्रस्तावित बैठक बुधवार को चौथी बार भी टाल दी गई।

वर्ष 2017 की यूपी बोर्ड हाईस्कूल एवं इंटर परीक्षा के लिए केंद्रों का निर्धारण 25 अक्टूबर तक जनपद स्तर पर करने की समय सीमा तय कर रखी है। इस आधार पर 24 अक्टूबर को अपर जिलाधिकारी प्रशासन हरिकेश चौरसिया की अध्यक्षता में केंद्र निर्धारण की पहली बैठक बुलाई गई थी।

उस दिन बैठक में तय हुआ था कि सभी उप जिलाधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के परीक्षा केंद्रों का स्थलीय निरीक्षण कर इसकी रिपोर्ट दो नवंबर तक उपलब्ध कराएंगे। उसके बाद तीन या चार नवंबर में केंद्र निर्धारण के लिए बैठक बुलाई जाएगी।

लेकिन दूसरी बैठक होने से पहले मुख्यमंत्री की विकास रथ यात्रा और फिर समाजवादी पार्टी की विकास रथ यात्रा के चलते जिला प्रशासन के अफसर उसमें व्यस्त हो गए। इस दौरान दो बार तय की गई बोर्ड परीक्षा केंद्रों की बैठक टाल दी गई।

अब 11 को प्रस्तावित
साथ ही सात नवंबर को फिर बैठक प्रस्तावित की गई। लेकिन उस दिन एसडीएम के ट्रेनिंग में व्यस्त होने की वजह से बैठक नहीं हुई और जिला प्रशासन ने 9 नवंबर को शाम छह बजे फिर बैठक बुला ली।

हालांकि बैठक शुरू होने के कुछ समय पहले ही जिला प्रशासन ने उसे यह कहकर स्थगित कर दिया कि एसडीएम ट्रेनिंग में गए हैं। डीआईओएस उमेश त्रिपाठी ने बताया कि अब बैठक 11 नवंबर को होगी।

लखनऊ: अधिकारी ट्रेनिंग में, बोर्ड परीक्षा के केन्द्र फंसे,यूपी बोर्ड,चौथी बार टल गई परीक्षा केन्द्र निर्धारण की प्रक्रिया Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।