बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

नवंबर 06, 2016

पब्लिक स्कूल से परेशान अभिभावक मेरठ पहुंचे और लगाई न्याय की गुहार


मेरठ।
जेडी कार्यालय में शनिवार को ऑल स्कूल पेरेंट्स एसोसिएशन (गाजियाबाद) और फ्यूचर्स इंडिया स्टूडेंट फ्रंट के संयुक्त तत्वावधान में धरना दिया गया। इस दौरान सभी पदाधिकारियों ने पब्लिक स्कूलों के खिलाफ खूब नारी बाजी की और जेडी कार्यालय की व्यवस्था पर भी निराशा जताई।

साथ ही अभिभावकों ने कहा कि पब्लिक स्कूल खुलकर लूट रहे हैं, लेकिन अधिकारी कुछ नहीं कर रहे हैं। पदाधिकारियों ने मांग की है कि यूपी सरकार दो एनओसी देती है वह लागू करा दी जाए।

धरने के दौरान अध्यक्ष शिवानी जैन ने कहा कि पब्लिक स्कूलों ने खूब लूट मच रखी है। ड्रेस, कॉपी किताब से लेकर खेलकूद आदि के नाम पर खुली वसूली है।

इसी तरह से उपाध्यक्ष सचिन सोनी ने आरोप लगाते हुए प्रेसिडियम स्कूल इंदिरापुरम की शिकायत की है। उन्होंने कहा कि जेडी मेरठ मंडल को कई बार लिखित में अवगत कराया गया है कि विकास शुल्क को लेकर इस स्कूल में गड़बड़ी है।

स्पष्ट नहीं हो रहा है कि 2010 या 2012 का आदेश मानना है। भटवाक की स्थिति है। जबकि मेरठ जेडी को कई बार लिखित में शिकातय दे दी गई है, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। साथ ही पांच नवंबर को जेडी कार्यालय में धरना की सूचना भी दी गई।

मेल पर लगातार मैसेज दिए गए, लेकिन जेडी कार्यालय की मेल पर आज तक कोई उत्तर नहीं मिला है। बहरहाल धरने के दौरान किसी जेडी से मुलाकात नहीं हो सकती। सभी पदाधिकारी देर शाम तक इंतजार और नारेबाजी कर चले गए।

मौके पर सचिव मिताली सिन्हा, संयुक्त सचिव रविंद्र रावत, तमन्ना खन्ना, सचिन सिद्वार्थ,हैप्पी चौधरी, शुभम चौधरी, गौरव प्रधान, दर्शन कुमार, मनीष सैनी, मोनू सिंह आदि रहे।

पब्लिक स्कूल खुलकर लूट रहे हैं। गाजियाबाद जैसे शहर में बच्चों को पढ़ा पाना मुश्किल हो गया है।
शिवानी जैन

मेरठ जेडी कार्यालय की स्थिति बहुत खराब है। कोई जवाब व मैसेज तक नहीं मिलता है।
तमन्ना

स्कूलों में एबीसीडी पढ़ाने के लिए भी लाखों रुपये भरने पड़ रहे हैं। यह हालत देश की शिक्षा की है।
सचिन सोनी

अभिभावक आखिरी सांस तक लड़ेंगे। पब्लिक स्कूलों पर लगाम लगानी जरुरी हो गई है।
सचिन सिद्धार्थ

पब्लिक स्कूल से परेशान अभिभावक मेरठ पहुंचे और लगाई न्याय की गुहार Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।