बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

नवंबर 07, 2016

यूपी में धुंध को देखते हुए अलर्ट,पर्यावरण विभाग से प्रदूषण रोकथाम के निर्देश


देश की राजधानी दिल्ली के बाद उत्तर प्रदेश में दीपावली के बाद प्रदूषण की मार लोगों को झेलनी पड़ रही है। यूपी के अधिकतर जिलों में रविवार की सुबह से छाया धुंध शाम तक छटने का नाम नहीं लिया।

राज्य सरकार ने धुंध को देखते हुए अलर्ट जारी कर दिया है। इसके साथ पर्यावरण विभाग को प्रदूषण रोकथाम के लिए जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं।

उत्तर प्रदेश में रविवार की सुबह लोग उठे तो उन्हें धुंध दिखाई दिया। उत्तर प्रदेश में ऐसा मौसम अमूमन 15 दिसंबर के बाद होता है। रविवार की छुट्टी वाले दिन लोगों ने जब बाहर धुंध देखा तो लगा कि मौसम बदल रहा है।

मौसम विज्ञानियों की माने तो यह धुंध प्रदूषण और मौसम में तेजी से आ रहे बदलाव के चलते हो रहा है। इससे तापमान में तेजी से गिरावट दर्ज की गई है। सांस और हृदय रोगियों के लिए यह मौसम काफी खतरनाक है।

राज्य सरकार की ओर से एनसीआर और उत्तर प्रदेश के अन्य भागों में धुंध को देखते हुए अलर्ट जारी कर दिया गया है। राज्य सरकार की ओर से कहा गया है कि पर्यावरण विभाग की ओर से प्रदूषण की रोकथाम के लिए जारी नोटिफिकेशन का कड़ाई से पालन किया जाए।

नोटिफिकेशन के मुताबिक खेतों में फसलों को जलाने पर लगी रोक पर सख्ती बरती जाए। तेज आवाज वाले जेनरेटरों व मोटरों पर अभियान चलाकर प्रतिबंध लगाया जाए। खासकर काला धुंआ छोड़ने वाले डीजल के बड़े जेनरेटरों पर कड़ाई से रोक लगाई जाए।

यहां बता दें कि दीपावली के बाद से दिल्ली में अधिकतर दिनों में धुंध छाया रहता है। इसके चलते दिल्ली नगर निगम ने स्कूलों को बंद करने का आदेश दे दिया है। वहां जो स्कूल खुल रहे हैं उसमें बच्चों को मॉस्क पहनकर आने का निर्देश दे दिया गया है। इसके चलते वहां बच्चे स्कूल में मॉस्क पहनकर आ रहे हैं।

यूपी में धुंध को देखते हुए अलर्ट,पर्यावरण विभाग से प्रदूषण रोकथाम के निर्देश Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।