बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

नवंबर 18, 2016

इलाहबाद : प्राइमरी में 14 हजार सहायक अध्यापकों की होगी भर्ती


इलाहाबाद
बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 14,165 सहायक अध्यापकों की भर्ती होगी। इनमें से चार हजार पदों पर उर्दू विषय के शिक्षकों की भर्ती होगी और बचे हुए 10,165 पद टीईटी पास बीटीसी या समकक्ष डिग्रीधारकों के लिए प्रस्तावित है।

बेसिक शिक्षा परिषद के संयुक्त सचिव अशोक कुमार गुप्ता ने इन पदों पर भर्ती का प्रस्ताव 15 नवंबर को ही भेज दिया है।

रिपोर्ट के अनुसार, सहायक अध्यापकों के पद 75 में से 47 जिलों में ही खाली है। वैसे तो प्राइमरी स्कूलों में शिक्षकों के कुल 3,14,131 पद सृजित हैं।

लेकिन 47 जिलों में शिक्षकों के 2,04,222 पदों में से 18,273 पद रिक्त है। हालांकि बीटीसी 2013 बैच के अभ्यर्थी तीस हजार पदों पर भर्ती की मांग कर रहे हैं।

सीतापुर में 1300, बलिया में 1000 पद रिक्त
इलाहाबाद। बेसिक शिक्षा परिषद ने सरकार को जो प्रस्ताव भेजा है उसमें सर्वाधिक 1300 पद सीतापुर (364 उर्दू व 936 सामान्य) और 1000 (280 उर्दू व 720 सामान्य) बलिया में खाली हैं।

इलाहाबाद जिले में कोई पद खाली नहीं है। मंडल में प्रतापगढ़ 500, फतेहपुर 350 व कौशांबी 150 पद है। हाथरस में 600, महाराजगंज 500, गोंडा 700 और रामपुर में 600 पदों पर भर्ती प्रस्तावित है।

प्रमोशन के विवाद के कारण इलाहाबाद में रिक्ति नहीं
इलाहाबाद। इलाहाबाद में प्रमोशन में विवाद के कारण पद होने के बावजूद भर्ती नहीं हो पा रही।

उच्च प्राथमिक स्कूलों में वरिष्ठता सूची विवादित होने के कारण 720 हेडमास्टर का प्रमोशन निरस्त कर दिया गया। जबकि यदि इन पदों पर प्रमोशन हो जाए तो बेरोजगारों को फायदा होगा।

इलाहबाद : प्राइमरी में 14 हजार सहायक अध्यापकों की होगी भर्ती Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।