बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

अक्तूबर 21, 2016

*नौकरी के अवसर नहीं, प्रशिक्षण जारी*

इलाहाबाद। प्रदेश सरकार की ओर से सीटी नर्सरी एवं एनटीटी प्रशिक्षण कोर्स में प्रवेश के लिए इन दिनों आवेदन मांगे गए हैं।

सीटी नर्सरी एवं एनटीटी कोर्स करने के बाद अब अभ्यर्थियों को प्राथमिक विद्यालयों में भी नौकरी के अवसर खत्म हो गए हैं। इसके बाद भी प्रदेश सरकार की ओर से इन पाठ्यक्रमों में प्रवेश लगातार जारी है।

प्रदेश सरकार की बेरोजगारों से इस प्रकार से धन वसूली को अमर उजाला की ओर से लगातार पाठकों तक पहुंचाने का प्रयास जारी है।
प्रदेश सरकार की ओर से सीटी-नर्सरी एवं एनटीटी कोर्स करने के बाद मौजूदा समय में किसी प्रकार अवसर नहीं है।

सीटी नर्सरी करने के बाद प्रदेश सरकार की ओर से परिषदीय विद्यालयों में होने वाली शिक्षकों की भर्ती में कोई मौका नहीं है। परिषदीय विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति में एनसीटीई ने वर्तमान समय में बीटीसी के साथ टीईटी अनिवार्य योग्यता रखी है।

इसी प्रकार एनटीटी कोर्स करने के बाद भी प्राथमिक विद्यालयों में नौकरी के लिए कोई मौका नहीं है, ऐसे में दो वर्ष का प्रशिक्षण पूरा करने के बाद आखिरकार अभ्यर्थी कहां जाएंगे।

बेसिक शिक्षा विभाग से जुड़े एक वरिष्ठ शिक्षाधिकारी का कहना है कि वर्तमान समय में सीटी-नर्सरी एवं एनटीटी वालों के लिए कोई अवसर नहीं है।

उन्होंने कहा कि यदि सरकार आगे कभी प्री-प्राइमरी कक्षाएं चलाने का निर्णय लेती है तो इन प्रशिक्षुओं को नौकरी के अवसर मिल सकते हैं।

सरकार की ओर से इन दिनों सीटी नर्सरी एवं एनटीटी के साथ शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) के लिए भी आवेदन मांगे गए हैं, इन दिनों ऑनलाइन आवेदन चल रहा है।

शासन की ओर से सीटी नर्सरी एवं एनटीटी प्रशिक्षण पूरा कर चुके अभ्यर्थी यूपीटीईटी केलिए आवेदन नहीं कर सकते हैं। ऐसे में प्रशिक्षण पूरा कर चुके इन अभ्यर्थियों केसामने सरकारी नौकरी के कोई अवसर नहीं हैं ।

सीटी नर्सरी, एनटीटी के अभ्यर्थियों को सरकार की ओर से टीईटी में शामिल होने का अवसर नहीं देने और नौकरी के लिए कोई अवसर नहीं होने के बाद भी लगातार प्रशिक्षण कार्यक्रम जारी है।

सरकार की ओर से बेरोजगारों को प्रशिक्षण देने के बाद नौकरी के कोई अवसर नहीं होने के बाद भी प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन एवं प्रशिक्षण पर हजारों खर्च करवाया जा रहा है।

निजी स्कूलों में मिल सकती है नौकरी
दो वर्ष का प्रशिक्षण पूरा करने के बाद सीटी नर्सरी एवं एनटीटी प्रशिक्षु प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग से मान्यता प्राप्त स्कूलों में तो नौकरी नहीं पाएंगे, परंतु उन्हें गली मोहल्ले में खुले प्ले स्कूलों, पब्लिक स्कूलों में प्री-प्राइमरी कक्षा के बच्चों को पढ़ाने के लिए नियुक्ति मिल सकती है।

*नौकरी के अवसर नहीं, प्रशिक्षण जारी* Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।