बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

अक्तूबर 22, 2016

एलटी ग्रेड भर्ती में पूरे उत्तर प्रदेश में हुआ फर्जीवाड़ा

इलाहाबाद : राजकीय विद्यालयों में एलटी ग्रेड शिक्षकों की भर्ती में पूरे प्रदेश में फर्जीवाड़ा हुआ है। यूपी बोर्ड के इलाहाबाद क्षेत्रीय कार्यालय में एक सत्यापन के दौरान अनजाने में पांच स्कूलों के हाईस्कूल 1999 और इंटरमीडिएट 2001 के मूल रिकार्ड बदले जाने का खुलासा हो गया।

सूत्रों के अनुसार बोर्ड के पुराने रिकार्ड की गहनता से जांच की जाए तो और बड़े घोटाले का खुलासा हो सकता है।

पांच स्कूलों से शुरू हुई जांच
सचिव यूपी बोर्ड शैल यादव ने मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक माध्यमिक महेन्द्र कुमार सिंह की अध्यक्षता में जो तीन सदस्यीय जांच समिति गठित की है वह सिर्फ इन पांच स्कूलों और यूपी बोर्ड के वर्ष 1999 व 2011 के रिकार्ड बदले जाने की जांच तक सीमित है।

जबकि बोर्ड बाबुओं के इस कारनामे के बाद अन्य वर्षों के मूल रिकार्ड से छेड़छाड़ से इनकार नहीं किया जा सकता।
डेढ़ सौ से ज्याद के बढ़ाए गए नंबर बोर्ड की प्राथमिक जांच रिपोर्ट से स्पष्ट है कि पांच स्कूलों के जो रिकार्ड बदले गए उनमें हाईस्कूल के 73 व इंटरमीडिएट के 78 छात्रों के नंबर बढ़ाए गए थे।

यदि इंटरमीडिएट के ही फर्जीवाड़े को लेते हैं तो 78 में से 22 ने इलाहाबाद मंडल की एलटी भर्ती में आवेदन किया। इनमें से 14 तो शुरुआती जांच में पकड़ लिए गए लेकिन आठ का चयन हो गया।

सवाल यह है कि बचे हुए 56 अभ्यर्थी कहां गए। क्या यह संभव नहीं कि इन अभ्यर्थियों ने बढ़े हुए अंकपत्र के आधार पर दूसरे मंडल में आवेदन किया हो और वहां नौकरी भी मिल गई हो।

जांच में बड़े घोटाले के संकेतअब तक की जांच में जो तथ्य सामने आए हैं उससे किसी बड़े घोटाले से इनकार नहीं किया जा सकता।

इससे पहले 2010 और 2012 की एलटी भर्ती में भी हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के फर्जी अंकपत्र के इस्तेमाल से इनकार नहीं किया जा सकता। ऐसे में पूरे प्रकरण की बड़े पैमाने पर और गहन जांच की मांग उठ रही है।

इनका कहना है
यूपी बोर्ड के मूल रिकार्ड बदले जाने की गहन जांच होनी चाहिए। ताकि पता चले कि फर्जी अंकपत्र के आधार पर कितने लोग नौकरी कर रहे हैं।

सवाल यह है कि उनका क्या होगा जो इनके स्थान पर चयनित होते। उन मेधावियों को नौकरी से वंचित होना पड़ा जो वाकई बहुत दु:खद है।लालमणि द्विवेदी, प्रदेश महामंत्री माध्यमिक शिक्षक संघ ठकुराई गुट

एलटी ग्रेड भर्ती में पूरे उत्तर प्रदेश में हुआ फर्जीवाड़ा Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।