बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

सितंबर 21, 2016

मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे कर्मचारी

लखनऊ : अंतर जनपदीय स्थानांतरण करने और पदोन्नति करने समेत 11 सूत्री मांगों को लेकर पंचायतों में तैनात सफाई कर्मचारियों का प्रदेशव्यापी धरना बुधवार को होगा।

उप्र ग्राम पंचायतराज कर्मचारी संघ के आह्वान पर लक्ष्मण मेला स्थल पर सभी जिलों के कर्मचारी जुटेंगे। कर्मचारियों ने मांग पूरी न होने पर मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने की भी चेतावनी दी है।

जिलाध्यक्ष बनवारी लाल यादव का कहना है कि वोटर लिस्ट में संशोधन करने और स्वच्छता अभियान सहित कई कार्य उनसे लिए जाते हैं, लेकिन जब मांगों की बारी आती है तो अधिकारी नियमों का हवाला देते हैं।

जिला मंत्री अरुण कुमार त्रिपाठी ने कहा कि ग्राम प्रधानों और ब्लॉक स्तर के अधिकारियों से उनके कार्यो की जानकारी ली जा सकती है।

कर्मचारियों के ग्रेड-पे का निर्धारण नहीं किया जा रहा है जिसकी वजह से उन्हें काम के अनुसार वेतन नहीं मिल रहा है। राजधानी के 700 सफाई कर्मचारियों के साथ ही प्रदेशभर हजारों कर्मचारी धरने में शामिल हो

चेयरमैन को हटाने की मांग

कर्मचारियों के वेतन व पेंशन का नियमानुसार भुगतान करने और आउट सोर्सिग कर्मचारियों का समय से भुगतान करने समेत 10 सूत्री मांगों को लेकर उप्र राज्य समाज कल्याण बोर्ड कर्मचारी चेयरमैन के खिलाफ लामबंद हो गए हैं।

मंगलवार को राजधानी समेत उन्नाव, सुल्तानपुर और गाजीपुर समेत प्रदेश के कई जिलों से आए स्वयं सेवा संस्थाओं के पदाधिकारियों ने भी चैयरमैन के खिलाफ नारेबाजी कर आंदोलन में साथ देने का एलान किया।

कैसरबाग के नारी कला मंदिर परिसर में चल रहे कार्य बहिष्कार के दौरान संघ के अध्यक्ष गोविंद शर्मा ने कहाकि जांच के नाम पर मनमानी करने पर चेयरमैन आमादा है।

उनका कहना है कि पिछले वर्ष अक्टूबर से लेकर अब तक जो कुछ भी हुआ, उससे बोर्ड की कार्य प्रणाली पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है। बुधवार से कर्मचारी कार्यालय में पूर्ण तालाबंदी करेंगे। धरने में रीना कश्यप, कमल पंजवानी, अनवर ताहिर व रामनरेश समेत कई कर्मचारी शामिल हुए

मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे कर्मचारी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।