बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

सितंबर 21, 2016

राज्यकर्मियों व शिक्षकों की हड़ताल से सरकारी काम-काज ठप, विरोध में लगाये नारे

निगम और निकायों में छठे वेतनमान को देने और वेतन विसंगतियों को दूर करने जैसी मांगों को लेकर कर्मचारी-शिक्षक संयुक्त मोर्चा ने मंगलवार से अपनी अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी।

सुबह से ही जवाहर भवन के बाहर बड़ी संख्या में कर्मचारियों ने इकट्ठा होकर सभा की। जिस कारण कई बार अशोक मार्ग पर जाम भी लगा। उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में विभिन्नस विभागों में बंदी का दावा किया गया है।

इस हड़ताल में प्रदेश के करीब 22 लाख कर्मचारी और शिक्षक शामिल हो रहे हैं। इस दौरान लखनऊ में अध्यक्ष बीपी मिश्र और संयोजक सतीश कुमार पाण्डेय के नेतृत्व में आयोजित सभा में सरकार विरोधी नारे लगाये गये।

सरकार की कर्मचारी विरोधी नीतियों के खिलाफ बड़े कर्मचारी नेताओं ने भाषण दिये। सोमवार देर रात तक मोर्चा के पदाधिकारी मुख्यमंत्री की ओर से वार्ता के प्रस्ताव का इंतजार करते रहे।

सरकार की ओर से वार्ता के लिए कोई पहल नहीं होने पर कर्मचारी हड़ताल पर चले गये। नगर निगम समेत कई आवश्यक सेवाएं बाधितहड़ताल के कारण नगर निगम पूरी तरह से बंद रहा। जवाहर भवन और इंदिरा भवन में कई प्रमुख विभागों के निदेशालयों में कामकाज पूरी तरह से ठप रहा।

यहां तक की ट्रेजरी और रजिस्ट्री विभाग में भी काम नहीं हुआ। अस्पतालों में करहाते रहे मरीजशहर के सभी अस्पतालों में बंदी रही जिस कारण मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने के कारण मरीजों को दवा नहीं मिली और जांचें भी नहीं हुईं। गंभीर बीमारी से पीड़ित मरीजों के इलाज से भी नर्सों ने हाथ खींच लिये। सिविल अस्पताल में सुबह से मारामारी की स्थिति बनी रही।

हड़ताल पर रहे यह संगठनराज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद, राज्य कर्मचारी महासंघ, राज्य निगम कर्मचारी महासंघ, स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी महासंघ, विकास प्राधिकरण कर्मचारी संयुक्त संगठन, शिक्षणेत्तर कर्मचारी महासंघ, कलेक्ट्रेट रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद, कर्मचारी संघ, डिप्लोमा फार्मेसिस्ट एवं लैब टेक्नीशियन, नर्सेज संघ, आप्टोमेट्रिस्ट एसोसिएशन, फिजियोथेरिपिस्ट एसोसिएशन, ईसीजी टेक्नीशियन, डेन्टल हाईजीनिस्ट, एक्सरे टेक्नीशियन संघ, सिंचाई संघ, राजस्व अधिकारी, फेडरेशन आफ फारेस्ट एसोसिएशन, वन लिपिक संघ, परिवहन आयुक्त, मिनिस्ट्रियल संघ, यूपी फेडरेशन आफ मिनिस्ट्रीयल सर्विसेज एसोसिएशन, जवाहर भवन-इन्दिरा भवन कर्मचारी महासंघ, नियमित वर्कचार्ज कर्मचारी महासंघ, लोक निर्माण माध्यमिक शिक्षक संघ, उप्र लेखा एवं लेखा परीक्षक परिसंघ, स्टेनोग्राफर महासंघ, केजीएमयू कर्मचारी परिषद, पशु चिकित्सक, फार्मेसिस्ट आदि संगठनों के कर्मचारी हड़ताल पर रहे

राज्यकर्मियों व शिक्षकों की हड़ताल से सरकारी काम-काज ठप, विरोध में लगाये नारे Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।