बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

सितंबर 03, 2016

कॉलेज की पढ़ाई में बेटों से आगे बेटियां

मेरठ और सहारनपुर मंडल के डिग्री कॉलेजों में लड़कियों ने लड़कों का एडमिशन मुश्किल कर दिया है। ग्रेजुएशन में दाखिले की दौड़ में वह लड़कों से आगे रहीं। यही नहीं, अच्छी मेरिट के दम पर कोएड कॉलेजों में भी लड़कों से ज्यादा लड़कियों के एडमिशन हुए हैं।

दोनों मंडल के कॉलेजों में 35 हजार में से करीब 21 हजार एडमिशन लड़कियों के हैं। कॉलेजों में हर साल बढ़ रही बेटियों की संख्या लड़कों के लिए खतरे की घंटी है। उन्होंने पढ़ाई पर ध्यान नहीं दिया तो कोएड कॉलेज में एडमिशन मिलना भी मुश्किल हो जाएगा।

चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से मेरठ और सहारनपुर मंडल के 66 राजकीय और एडेड कॉलेज संबद्ध हैं। विवि इन कॉलेजों में ट्रेडिशनल कोर्स (सेल्फ फाइनेंस को छोड़कर) के एडमिशन पूरे कर चुका है। कॉलेजों में 50 एडेड और 16 राजकीय हैं। इनमें 14 गर्ल्स कॉलेज हैं।

एडमिशन की तस्वीर लड़कियों की प्रतिभा पेश करती है। कॉलेज की पढ़ाई में बेटों से आगे बेटियांकॉलेजों में 35095 एडमिशन हुए हैं। इनमें 21192 लड़कियों के और 13902 लड़कों के एडमिशन हैं। 66 कॉलेजों में लड़कों से 7290 ज्यादा लड़कियां हैं।

प्रतिशत में देखें तो लड़के 39.61 फीसदी हैं और लड़कियां 60.38 फीसदी। हालांकि, दोनों मंडलों के नौ जिलों में एक भी ब्वॉयज कॉलेज नहीं है, जबकि सिर्फ गर्ल्स के लिए 14 कॉलेज हैं। बावजूद इसके तस्वीर बदल रही है। अधिकांश कोएड और राजकीय कॉलेजों में लड़कियों का एडमिशन 50 प्रतिशत से अधिक या आसपास है।

पिछले तीन-चार साल से यह अनुपात बढ़ रहा है। विवि के प्रवेश नियम की बात करें तो हर कोर्स में कम से कम 20 प्रतिशत लड़कियों को आरक्षण देने की व्यवस्था है। अधिकतम का कोई नियम नहीं है। लेकिन, लड़कियां अच्छी परसेंटेज दम पर लड़कों को पछाड़ रही हैं।

बीकॉम और बीएससी में ज्यादा
बीकॉम और बीएससी में लड़कियों के एडमिशन अधिक हैं। कई कॉलेजों में तो 70 से 80 प्रतिशत तक हैं। बीएससी बायोलॉजी में सबसे ज्यादा हैं। बीकॉम की स्थिति भी अच्छी है। बीए, बीएससी मैथ और बीएससी सांख्यिकी में थोड़ा कम है।
सत्र 2016-17 में हुए एडमिशन
जिला लड़कियां लड़के
मेरठ 5662 2907
बुलंदशहर 2436 2216
नोएडा 1193 473
गाजियाबाद 2968 1948
हापुड़ 1585 1144
मुजफ्फरनगर 2151 1464
सहारनपुर 3059 1305
शामली 916 757
बागपत 1222 1688
नोट: ये बीए, बीएससी, बीकॉम में हुए एडमिशन हैं।

कॉलेज की पढ़ाई में बेटों से आगे बेटियां Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।