बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

सितंबर 18, 2016

आंगनबाड़ियों के समर्थन में पहुंचे चार दलों के नेता

सहारनपुर में मांगों को लेकर चल रहा आंगनबाड़ी कर्मचारियों का धरना प्रदर्शन 17वें दिन भी जारी रहा। ब्यूरो/अमर उजाला,  को कांग्रेस, भाजपा, बसपा और रालोद नेताओं ने धरने पर पहुंचकर उनकी मांगों का समर्थन किया।

धरने पर आंगनबाड़ियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर भजन कीर्तन कर उनके दीर्घायु होने की कामना की। शनिवार को हकीकत नगर धरना स्थल पर चल रहे धरने को समर्थन देने पहुंचे भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जसवंत सैनी ने कहा कि केंद्र सरकार से आपके मानदेय बढ़ाने की मांग की जाएगी।

भाजपा जिलाध्यक्ष बिजेंद्र कश्यप ने कहा कि सोमवार को आंगनबाड़ियों के जुलूस को भाजपा पूरा समर्थन देगी। पूर्व विधायक और कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष इमरान मसूद ने कहा कि आंगनबाड़ियों की सभी मांगों को घोषणापत्र में शामिल किया जाएगा।

सोमवार को दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित आंदोलन का समर्थन देने के लिए धरना स्थल पर पहुंचेगी। बसपा के नगर प्रभारी मुकेश दीक्षित ने आंदोलनकारी आंगनबाड़ी कर्मचारियों को पूर्ण समर्थन देने का ऐलान किया।

रालोद के प्रदेश महासचिव धीर सिंह और जिलाध्यक्ष चौधरी अय्यूब हसन ने कहा रालोद आंगनबाड़ी कर्मचारियों के साथ है। भाजपा महानगर अध्यक्ष अमित गगनेजा, भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष अनीता शर्मा आदि ने भी समर्थन की घोषणा की।

जिलाध्यक्ष सुलेलता पंवार और जिला महामंत्री पूनम शर्मा ने कहा कि मांगे पूरी होने तक आंदोलन जारी रहेगा। धरने पर आंगनबाड़ी कर्मचारियों ने भजन कीर्तन करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर दीर्घायु होने की कामना की।

अध्यक्षता सुनीता पुंडीर और संचालन महेंद्र सिंह ने किया। संयोगिता, लीलावती, शिमला, कमलेश, कविता, सोनिया गुप्ता, बिंदलेश, मंतलेश, सुलक्षणा देवी, मुकेश, सुधा धीमान, कविता चौधरी, सुमनलता, सुमन सैनी आदि रहीं।

आंगनबाड़ियों के समर्थन में पहुंचे चार दलों के नेता Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।