बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

अगस्त 23, 2016

शिक्षकों को मिला अंतरजनपदीय तबादलों का तोहफा

एटा : अंतरजनपदीय तबादलों को लेकर परिषदीय स्कूलों के शिक्षक-शिक्षिकाओं को लंबे इंतजार के बाद राहत मिल ही गई। रविवार देर शाम शासन द्वारा जारी की गई तबादला सूची में जिले के 200 से भी अधिक शिक्षक-शिक्षिकाएं सूची में अपना नाम देखकर उछल पड़े। वहीं कुछ आवेदन करने वाले सूची से गायब होने पर हताश भी हुए। अभी भी उन्हें दूसरी सूची का इंतजार है।

वर्ष 2013 में शिक्षक-शिक्षिकाओं के अंतरजनपदीय तबादले होने के बाद दूसरे जिलों में अपना घर छोड़कर नौकरी कर रहे परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों को वर्षों से शासन के रहम का इंतजार था।

इसी के तहत शिक्षक-शिक्षिका अंतरजनपदीय तबादलों के लिए लगातार मांग कर रहे थे। तो वहीं शासन उन्हें तबादलों के लिए आश्वस्त भी किए था। अप्रैल 2016 में शासन ने शिक्षकों से अंतरजनपदीय तबादलों के लिए ऑन लाइन आवेदन कर फरमान तो जारी किया, लेकिन यह प्रक्रिया जून में पूरी न हो सकी।

इसके बाद आवेदन करने वाले शिक्षक-शिक्षिकाएं इसी इंतजार में रहे कि कब सूची जारी हो और वह अपने जिलों में पहुंचें। तबादलों के लिए जिले से भी 281 शिक्षक-शिक्षिकाओं ने आवेदन किए तथा काउंसि¨लग कराई। विभाग ने भी डाटा उसी समय भेज दिया, लेकिन आवेदन करने वाले सिर्फ इसीलिए परेशान थे कि सूची जारी होगी भी या नहीं।

ऐसे में रविवार शाम को अंतरजनपदीय तबादलों की जैसे ही सूची जारी हुई, आवेदन करने वालों को सूची में अपना नाम तलाशने की फिक्र बढ़ गई। जिसको भी अपना नाम मिला वही खुशी से झूम उठा। जनपद के 235 शिक्षक सूची में शामिल किए गए हैं। शेष रहे शिक्षक-शिक्षिकाएं निराश तो हुए लेकिन अभी दूसरी सूची का इंतजार कर रहे हैं।

स्थानांतरित शिक्षिका रेनू का कहना है कि 10 साल से यहां नौकरी कर रहीं थीं, आगरा में निवास होने के कारण परेशानी थी, लेकिन अब राहत मिलेगी। दलवीर ¨सह कहते हैं कि शासन ने सूची जारी कर अपने वायदे को पूरा किया। उधर बीएसए एसएस यादव का कहना है कि शासन के निर्देशानुसार शिक्षकों को रिलीव करने की कार्रवाई की जाएगी

शिक्षकों को मिला अंतरजनपदीय तबादलों का तोहफा Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।