बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

अगस्त 18, 2016

कैबिनेट के फैसलेः आठवीं तक के बच्चों को मुफ्त स्कूल बैग, तीन आकार के होंगे यह बैग,

लखनऊ (राज्य ब्यूरो)। अखिलेश सरकार ने कक्षा एक से आठ तक के 1.85 करोड़ बच्चों को मुफ्त में स्कूल बैग उपलब्ध कराने का फैसला किया है।

यह स्कूल बैग सभी परिषदीय स्कूलों, सहायताप्राप्त जूनियर हाईस्कूलों, मदरसों व माध्यमिक विद्यालयों के सभी बच्चों के साथ ही राजकीय इंटर कॉलेजों के कक्षा छह से आठ तक के बच्चों को मुहैया कराये जाएंगे।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कैबिनेट बैठक में कक्षा एक से आठवीं तक के स्कूली बच्चों को सरकार की ओर से निश्शुल्क स्कूल बैग उपलब्ध कराने के प्रस्ताव पर मुहर लगी।

तीन आकार के बैग :
पहली व दूसरी कक्षा के बच्चों के लिए छोटे आकार के 52 लाख, तीसरी से पांचवीं तक के छात्र-छात्राओं के लिए मझोले साइज के 76 लाख और कक्षा छह से आठ तक के विद्यार्थियों के लिए बड़े आकार के 57 लाख स्कूल बैग खरीदे जाएंगे।

एक बैग की अनुमानित कीमत 140 रुपये आंकी गई है। लिहाजा 1.85 करोड़ बच्चों को बैग मुहैया कराने पर 259 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। सरकार ने चालू वित्तीय वर्ष के बजट में स्कूल बैग के लिए 200 करोड़ रुपये आवंटित किये थे।

राज्य स्तर पर निर्धारित विशिष्टियों के आधार पर बैग की दरें तय करने, आपूर्तिकर्ताओं के चयन व मात्रा का आवंटन करने के मकसद से टेंडर प्रक्रिया को अंजाम देने के लिए बेसिक शिक्षा निदेशक की अध्यक्षता में टेंडर कमेटी का गठन किया जाएगा।

निदेशक मध्याह्न भोजन प्राधिकरण के प्रतिनिधि, सर्व शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशक के प्रतिनिधि, वित्त नियंत्रक बेसिक शिक्षा निदेशालय कमेटी के सदस्य और सचिव बेसिक शिक्षा परिषद सदस्य सचिव होंगे।

अखिलेश सरकार ने पिछले वित्तीय वर्ष के पहले अनुपूरक बजट में मुफ्त स्कूल बैग देने के लिए 50 करोड़ रुपये आवंटित किये थे लेकिन पिछले साल सरकार बैग नहीं खरीद सकी थी।

कैबिनेट के फैसलेः आठवीं तक के बच्चों को मुफ्त स्कूल बैग, तीन आकार के होंगे यह बैग, Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Kamal Singh Kripal

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।