बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

अगस्त 20, 2016

शिक्षक भर्ती काउंसिलिंग को लेकर रस्साकसी अनापत्ति प्रमाणपत्र के बगैर शिक्षामित्रों को मौका देने पर बीटीसी अभ्यर्थी खफा

इलाहाबाद : परिषदीय स्कूलों में 16448 शिक्षकों की काउंसिलिंग का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। आगरा में गुपचुप काउंसिलिंग कराने को लेकर अभ्यर्थियों ने हंगामा काटा तो इलाहाबाद में अनापत्ति प्रमाणपत्र के बगैर शिक्षामित्रों को काउंसिलिंग कराने पर बीटीसी अभ्यर्थी भड़के हैं।

वहीं, शिक्षामित्र अनापत्ति प्रमाणपत्र की अनिवार्यता एवं उसे जारी करने में अफसरों की अनदेखी को न्यायालय में चुनौती देने की तैयारी कर ली है।

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 16448 सहायक अध्यापकों की भर्ती होनी है। इसमें आवेदन करने के लिए पहले बीटीसी 2013 एवं उसके पूर्व बैच के अभ्यर्थी झगड़ते रहे। किसी तरह कोर्ट के निर्देश पर इसका पटाक्षेप हो सका, बाद में दूरस्थ बीटीसी प्रशिक्षण पूरा करने वाले शिक्षामित्रों एवं बीएलएड, डीएड आदि को काउंसिलिंग कराने का मौका दिया गया।

इसमें पूर्व की भर्तियों में चयनित शिक्षामित्रों को अनापत्ति प्रमाणपत्र लेना अनिवार्य किया गया। इसी के बाद से विवाद बढ़ गया। अधिकांश जिलों में अनापत्ति प्रमाणपत्र जारी ही नहीं हो सके और कुछ जिलों में इसके बगैर ही काउंसिलिंग कराई गई।

बीटीसी अभ्यर्थियों का आरोप है कि इलाहाबाद में गुपचुप तरीके से बिना अनापत्ति प्रमाणपत्र के शिक्षामित्रों को मौका दिया गया है।

युवाओं का कहना है कि 15 हजार शिक्षक भर्ती में अब तक चयनित अभ्यर्थियों की सूची गड़बड़ी के कारण जारी नहीं हो सकी है और अब 16 हजार भर्ती में भी मनमानी की जा रही है। उधर, शिक्षामित्रों ने अनापत्ति प्रमाणपत्र को अनिवार्य किए जाने एवं जिलों में समय पर उसे जारी न करने को हाईकोर्ट में चुनौती देने का निर्णय लिया है।

शिक्षक भर्ती काउंसिलिंग को लेकर रस्साकसी अनापत्ति प्रमाणपत्र के बगैर शिक्षामित्रों को मौका देने पर बीटीसी अभ्यर्थी खफा Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।