बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

अगस्त 09, 2016

बीटीसी 2015 की काउंसिलिंग आज से,करीब 20 हजार अभ्यर्थियों के आवेदन दुरुस्त न होने के कारण निरस्त कर दिये

इलाहाबाद : बीटीसी 2015 के लिए मंगलवार को प्रदेश भर में एक साथ काउंसिलिंग शुरू हो रही है। इसकी सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने सभी जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थानों (डायट) को अर्ह अभ्यर्थियों की सूची भेज दी गई है।

उसी के अनुरूप काउंसिलिंग होगी। ज्ञात हो कि करीब 20 हजार अभ्यर्थियों के आवेदन दुरुस्त न होने के कारण निरस्त कर दिये गए हैं। सूबे में करीब अस्सी हजार से अधिक सीटों पर प्रवेश मिलेगा।

परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव की ओर से डायट प्राचार्यो को निर्देश दिया गया है कि जिले में आवंटित सीटों के सापेक्ष आरक्षण नियमों को ध्यान में रखते हुए सामान्य वर्ग के 30 गुना एवं विशेष आरक्षण श्रेणी के 50 गुना अभ्यर्थियों की कटऑफ मेरिट प्रकाशित की जाए। 18 अगस्त तक अभ्यर्थियों के अभिलेखों की जांच डायट मुख्यालयों पर होगी।

इसकी जांच के बाद आवंटित सीटों के सापेक्ष मेरिट व अभ्यर्थियों के उपलब्ध अभिलेखों के अनुसार चयन सूची जारी की जाएगी। 21 अगस्त से 21 सितंबर तक एक माह प्रवेश प्रक्रिया चलेगी। सचिव परिषद ने निर्देश दिया है कि हर हाल में 22 सितंबर से प्रशिक्षण सत्र शुरू किया जाएगा।

सचिव ने यह भी निर्देश दिया है कि अभ्यर्थियों का आवेदन प्रदेश के सभी जिलों में मान्य है, अभ्यर्थी एक से अधिक जिलों में प्रवेश के लिए अभिलेखों की जांच करा सकते हैं। इसमें वह ऑनलाइन पंजीकरण पत्र, फीस रसीद, आवेदन पत्र को लाना अनिवार्य होगा। इसके लिए अलग से काउंसिलिंग कार्ड निर्गत नहीं किए जाएंगे।

सचिव ने यह भी कहा है कि अभिलेखों की जांच कराने का अर्थ प्रवेश मिलने की अनिवार्यता नहीं है, बल्कि दाखिला मेरिट के अनुसार ही दिया जाएगा। साथ ही जो अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन व पंजीकरण का प्रिंट आउट नहीं निकाल पाए हैं वे 18 अगस्त तक प्रिंट आउट निकाल सकते हैं।

बीटीसी 2015 की काउंसिलिंग आज से,करीब 20 हजार अभ्यर्थियों के आवेदन दुरुस्त न होने के कारण निरस्त कर दिये Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।