बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

जुलाई 23, 2016

फर्जी प्रमाण पत्र लगाने वाले छह शिक्षक बर्खास्त

लखनऊ मंडल में राजकीय स्कूलों के छह शिक्षकों को शुक्रवार को बर्खास्त कर दिया गया है। नियुक्ति के लिए लगाए गए अंक पत्र और अन्य प्रमाण पत्र फर्जी पाए जाने के चलते ये कार्रवाई की गई है। सभी जिलों के जिला विद्यालय निरीक्षकों को इन शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर कराने के निर्देश भी दिए गए हैं। ये रायबरेली, सीतापुर और लखीमपुर खीरी के राजकीय स्कूल में कार्यरत थे।

लखनऊ मंडल में राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापक प्रशिक्षित स्नातक (एलटी ग्रेड) में पुरुष वर्ग के 216 पदों पर भर्ती के लिए सितंबर 2012 में विज्ञापन निकाला गया था। अभ्यर्थियों की वरीयता सूची के अनुसार कटऑफ मेरिट 4 फरवरी 2014 को जारी की गई थी। शैक्षिक अभिलेखों की जांच के लिए 17 और 18 फरवरी को काउंसलिंग भी हुई। इसके बाद नियुक्ति पत्र जारी कर कार्यभार ग्रहण करा दिया गया।

जुलाई 2014 से राजकीय स्कूलों में पढ़ाने वाले इन शिक्षकों के शैक्षिक अभिलेखों की जांच के लिए अंक पत्र डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय फैजाबाद भेजे गए तो अभ्यर्थियों के कागजात मुहर लगकर वापस आ गए। विभाग को मामला संदिग्ध लगा तो दोबारा सत्यापन कराया गया। इस पर विश्वविद्यालय ने सभी अंकपत्र और प्रमाणपत्र फर्जी होने की पुष्टि कर दी।

विश्वविद्यालय द्वारा पुष्टि कराए जाने के बाद सभी छह अभ्यर्थियों को बर्खास्त कर दिया गया है। संयुक्त शिक्षा निदेशक दीप चन्द ने बताया कि इनमें से किसी भी अभ्यर्थी का वेतन जारी नहीं किया गया था। इनके अलावा, करीब 15 अन्य मामलों में जांच की जा रही है।

फर्जी प्रमाण पत्र लगाने वाले छह शिक्षक बर्खास्त Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।