बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

जुलाई 28, 2016

शिक्षामित्र समायोजन:शिक्षामित्रों के मामले में सुनवाई टली,SC में यूपी शिक्षामित्र मामले की अगली सुनवाई 24 अगस्त को

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली :
उत्तर प्रदेश में शिक्षामित्रों के समायोजन और प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती मामले की सुनवाई 24 अगस्त तक के लिए टल गई है।

बुधवार को पक्षकारों द्वारा सुनवाई कर रही पीठ के एक न्यायाधीश जस्टिस आरएफ नारिमन के सुनवाई करने पर आपत्ति उठाए जाने के बाद कोर्ट ने मामले को किसी और पीठ के समक्ष लगाए जाने का निर्देश देते हुए सुनवाई टाल दी।

बुधवार को यह मामला न्यायमूर्ति दीपक मिश्र व न्यायमूर्ति आरएफ नारिमन की पीठ के समक्ष लगा था। मालूम हो कि जस्टिस नारिमन वरिष्ठ वकील और पूर्व सालिसीटर जनरल रह चुके हैं और उनकी सीधे सुप्रीमकोर्ट न्यायाधीश पद पर नियुक्ति हुई थी।

पक्षकारों की ओर से आपत्ति जताए जाने के बाद न्यायमूर्ति दीपक मिश्र ने नई पीठ के गठन के लिए मामले की सुनवाई 24 अगस्त तक टाल दी।

सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश के शिक्षा मित्रों और 72825 सहायक अध्यापकों के मामले पर अगली सुनवाई 24 अगस्त को करने को कहा है। इससे पहले आज जस्टिस रोहिंग्टन नरीमन ने सुनवाई से खुद को अलग कर लिया है क्योंकि वे इस केस में पैरवी कर चुके हैं।

पिछली सुनवाई में कोर्ट ने आदेश दिया था कि मामले की अगली सुनवाई के दिन एक भी शिक्षामित्र कोर्ट में नहीं आना चाहिए। यदि एक भी शिक्षामित्र कोर्ट में घुसा तो मामले की सुनवाई नहीं की जाएगी। कोर्ट ने यह चेतावनी सुनवाई के दिन शिक्षामित्रों की कोर्ट में होने वाली भीड़ को देखते हुए दी थी।

शिक्षामित्र समायोजन:शिक्षामित्रों के मामले में सुनवाई टली,SC में यूपी शिक्षामित्र मामले की अगली सुनवाई 24 अगस्त को Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।