बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

जुलाई 14, 2016

बलिया में अनुपस्थित 32 शिक्षक-कर्मचारियों का बीएसए ने काटा वेतन

बलिया। बीएसए डॉ. राकेश सिंह के निर्देश पर बुधवार को परिषदीय स्कूलों के साथ ही कस्तुरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों की क्रास चेकिंग की गयी। गठित टीमें 86 स्कूलों का निरीक्षण की, जिसमें 32 शिक्षक-कर्मचारी अनुपस्थित मिले। बीएसए ने अनुपस्थित शिक्षक-कर्मचारियों का एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया है।

बीएसए ने बताया कि क्रास चेकिंग का सिलसिला जारी रहेगा। शिक्षक समय का ध्यान रखते हुए विद्यालय में शैक्षिक माहौल बनायें। छात्र-छात्राओं की उपस्थिति के लिए अभिभावकों से सम्पर्क करें।

नामांकित बच्चे स्कूल नहीं आ रहे है, तो उसका कारण जाने और निराकरण कर उपस्थिति सुनिश्चित करायें। बीएसए डॉ. राकेश सिंह ने रसड़ा व चिलकहर ब्लाक का निरीक्षण किया। रसड़ा के उप्रावि पकवाइनार की शिक्षिका प्रमिला सिंह अनुपस्थित मिली, जबकि कस्तुरबा गांधी आवासीय विद्यालय रसड़ा पर पीटीटी रूचि सिंह, रविशंकर यादव के अलावा रसोइया शांति देवी, सितारा देवी व परिचालक संतोष यादव अनुपस्थित मिले। बीईओ यशवंत सिंह ने बेलहरी ब्लाक के 11 स्कूलों का जायजा लिया।

प्रावि रूद्रपुर के प्रधानाध्यापक अमरेश कुमार गुप्त विद्यालय पर नहीं थे, लेकिन अवकाश का आवेदन पत्र था। बीईओ मोतीचन्द्र चौरसिया ने हनुमानगंज ब्लाक के 06 विद्यालयों का निरीक्षण किया। प्रावि पकड़ी पर सहायक अध्यापक धर्मेन्द्र कुमार व प्रावि वैना पर सूर्यकांत पांडेय हस्ताक्षर बनाकर गायब मिले।

बीईओ नरेन्द्र कुमार सोनकर ने मुरलीछपरा के 10 विद्यालयों का जायजा लिया। प्रावि दलकी नम्बर एक पर प्रधानाध्यापक सुरेन्द्र बहादुर सिंह व सहायक अध्यापक सत्यम सिंह अनुपस्थित मिले। डीसी (बालिका शिक्षा) कंचन सिंह जब कस्तुरबा

बलिया में अनुपस्थित 32 शिक्षक-कर्मचारियों का बीएसए ने काटा वेतन Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Kamal Singh Kripal

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।