बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

मार्च 20, 2016

नई व्यवस्था,जेईई मेंस, एआइपीएमटी, नेट में नकल रोकने के लिए कदम डिवाइस खरीदने को सीबीएसई ने जारी की निविदा,प्रतियोगी परीक्षाओं में मेटल डिटेक्टर से गुजरेंगे अभ्यर्थी,

हिमांशु मिश्र, इलाहाबाद केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के दौरान अभ्यार्थियों को अब केंद्रों पर मेटल डिटेक्टर से होकर गुजरना पड़ेगा।

इससे परीक्षा के दौरान इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के इस्तेमाल पर रोक लग सकेगी। बोर्ड ने डिवाइस खरीदने के लिए निविदा भी जारी कर दी है। सीबीएसई कई प्रोफेशनल परीक्षाएं कराता हैं।

जेईई मेंस और एडवांस, एआइपीएमटी, यूजीसी-नेट, सीटेट, जेएनवीएसटी जैसी परीक्षाएं इसमें अहम हैं। पिछले वर्ष एआइपीएमटी में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के इस्तेमाल की बात सामने आई थी। बड़ी संख्या में छात्रों ने ब्लू टूथ और माइक्रोफोन की मदद से नकल की थी।

सुप्रीम कोर्ट ने एआइपीएमटी में नकल पर सख्त रुख अपनाते हुए परीक्षा रद कर दी थी और इसे फिर से कराने के लिए आदेश दिया था। इस किरकिरी के बाद सीबीएसई ऐसे किसी मामले की पुनरावृत्ति नहीं चाहता।

उसने प्रोफेशनल परीक्षाओं में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस सहित अन्य साधनों से नकल रोकने के लिए कई कड़े फैसले लिए हैं। पेन के इस्तेमाल तक पर रोक लगा दी गई है। महिला अभ्यर्थियों को पिन या कोई भी ज्वैलरी पहनकर आने से मना किया गया है। करीब आठ हजार मेटल डिटेक्टर डिवाइस खरीदने के लिए निविदा भी जारी कर दी है।

कहा जा रहा है कि इसका इस्तेमाल देश भर में कम से कम 52 अतिसंवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर किया जाएगा।

घड़ी, पेन, पिन और चूड़ियां वर्जित-

सीबीएसई ने प्रोफेशनल परीक्षाओं में कलाई घड़ी, पेन, हेयर पिन, चूड़ियां, वायर, सेल बैटरी, छोटे इलेक्ट्रॉनिक गैजेट को भी परीक्षा कक्ष में ले जाना प्रतिबंधित कर रखा है। इन्हें भी प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने वाले अभ्यर्थी नहीं ले जा सकेंगे।

नई व्यवस्था,जेईई मेंस, एआइपीएमटी, नेट में नकल रोकने के लिए कदम डिवाइस खरीदने को सीबीएसई ने जारी की निविदा,प्रतियोगी परीक्षाओं में मेटल डिटेक्टर से गुजरेंगे अभ्यर्थी, Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।