बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

मार्च 20, 2016

शोध से जोड़े जाएंगे मैनेजमेंट कॉलेजों के शिक्षक। एकेटीयू की विद्या परिषद की बैठक में हुआ फैसला विश्वेश्वरैया रिसर्च प्रमोशन स्कीम पर लगी मुहर चयनित शोध प्रस्ताव के लिए पांच लाख रुपये की मिलेगी सहायता,

जागरण संवाददाता, लखनऊ : डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विवि (एकेटीयू) ने शोध को बढ़ावा देने के लिए इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेजों के शिक्षकों को शोध से जोड़ने का फैसला किया है।

विवि के तिलक हाल में कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक की अध्यक्षता में विद्या परिषद की शनिवार को हुई हुई बैठक में एकेटीयू से संबद्ध 634 इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेज में शोध एवं शिक्षण लिए तीन बढ़ी योजनाओं पर मुहर लगाई गई है।

विवि से संबद्ध संस्थानों में पढ़ा रहे शिक्षकों को शोध से जोड़ने के लिए विश्वेश्वरैया रिसर्च प्रमोशन स्कीम लांच की गई है। इसके अन्तर्गत हर वर्ष 50 शोध प्रस्ताव मंगवाए जाएगें। इनमें से विशेषज्ञों का एक पैनल बेहतर शोध प्रस्तावों का चयन करेंगे। चयनित शोध प्रस्तावों को पांच लाख रुपए की राशि शोध के लिए प्रदान करेगा।

इसी प्रकार सीवी रमन टीचिंग असिस्टेंस प्रोग्राम के तहत विवि एमटेक के 50 छात्रों को टीचिंग असिस्टेंट के तौर पर चयनित किया जाएगा। यह छात्र विवि के संबद्ध संस्थानों में शिक्षण का कार्य करेंगे जिन्हें मानदेय दिया जाएगा। प्राइवेट संस्थानों में इसका पचास फीसद पैसा विवि देगा एवं पचास फीसद उस संस्थान को देना होगा।

होमी भाभा टीचिंग असिस्टेंस प्रोग्राम के तहत पीएचडी के 50 छात्रों को टीचिंग असिस्टेंट के तौर पर चयनित किया जाएगा।

इसके अलावा परिषद ने प्रतिवर्ष नियमित रूप से अंतरराष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय सेमिनार एवं वर्कशॉप के आयोजन के लिए विवि से संबद्ध विभिन्न संस्थानों से प्रस्ताव मंगवाए जाने का फैसला किया है

विवि के शिक्षकों एवं छात्रों की शोध अभिरुचि को बढ़ाने के लिए नालंदा ई-लाइब्रेरी की शुरुआत की जाएगी। इसके तहत विभिन्न इंटरनेशनल एवं नेशनल जर्नल्स को मुफ्त ऑनलाइन मुहैया कराया जाएगा। इसके अलावा अब एमटेक में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा देनी होगी।

साथ ही साथ पीएचडी में दाखिले के इच्छुक छात्रों को भी प्रवेश परीक्षा पास करनी पड़ेगी। फैकल्टी डेवलपमेंट के लिए निर्धारित किए गए 50 प्रोग्रामों में से 19 प्रोग्राम आयोजित सफ लतापूर्वक कराए जा चुके हैं।

शोध से जोड़े जाएंगे मैनेजमेंट कॉलेजों के शिक्षक। एकेटीयू की विद्या परिषद की बैठक में हुआ फैसला विश्वेश्वरैया रिसर्च प्रमोशन स्कीम पर लगी मुहर चयनित शोध प्रस्ताव के लिए पांच लाख रुपये की मिलेगी सहायता, Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Agrima Singh

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।