बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

अक्तूबर 16, 2015

नए सत्र से पॉलीटेक्निक में सेमेस्टर प्रणाली लागू करने की तैयारी एक बार फिर शुरू

जितेंद्र उपाध्याय, लखनऊ हाई पावर कमेटी की संस्तुति के बाद मामूली फेरबदल करके प्रणाली को हरी झंडी मिल गई है। नए सत्र में सभी 60 पाठ्यक्रमों को फिर से तैयार किया जा रहा है। बैक पेपर बढ़ाए जाने के पीछे अधिकारियों का कहना है कि इस नई व्यवस्था से प्रथम वर्ष में फेल होने वाले छात्रों की संख्या में कमी आएगी। नई व्यवस्था नए छात्रों के साथ ही पुराने छात्रों पर भी लागू होगी।

 इसे लेकर अधिकारियों में अभी मंथन चल रहा है। 1प्रदेश में 336 निजी, 99 सरकारी, 18 सहायता प्राप्त और पांच अन्य विभागों से संचालित होने वाली कुल 458 संस्थाओं में यह व्यवस्था लागू होगी। राजकीय पॉलीटेक्निक संस्थाओं में 23,370 और 18 सहायता प्राप्त संस्थाओं में कुल 9990 छात्रों का पहले वर्ष में प्रवेश होता है।

  विषय के होंगे दो भाग :-

 पॉलीटेक्निक में प्रथम वर्ष के छात्रों की फेल होने की मुख्य वजह भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और गणित विषय होती है। परिषद इन विषयों को सरल बनाने के लिए दो पार्ट करने पर विचार कर रहा है। रसायन विज्ञान को थ्योरी और प्रैक्टिकल में बांटने पर सहमति बन गई है।
हालांकि अभी अंतिम निर्णय कानपुर स्थित शोध विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान को लेना है। निदेशक प्राविधिक शिक्षा ओपी वर्मा ने बताया कि इस वर्ष कुछ आपत्तियों की वजह से अब इसे अगले सत्र से लागू किया जाएगा।

पाठ्यक्रमों में भी होगा बदलाव मुख्य बदलाव :-

  • दो के बजाय चार पेपर में बैकपेपर व्यवस्था लागू होगी।
  • पूरा कोर्स तैयार करने के बजाय छात्रों को दो भाग की अलग-अलग पढ़ाई करनी होगी।
  • 15 अप्रैल और एक जनवरी को सेमेस्टर की परीक्षाएं होंगी, जिससे छात्रों पर परीक्षा का बोझ कम होगा।
  • दूसरे सेमेस्टर का परिणाम ही फेल व पास का निर्धारण करेगा।
  • मल्टीप्वाइंट सिस्टम पर भी सेमेस्टर प्रणाली लागू होगी।
keywords : # polytechnic , # semester ,

नए सत्र से पॉलीटेक्निक में सेमेस्टर प्रणाली लागू करने की तैयारी एक बार फिर शुरू Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Kamal Singh Kripal

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।