बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

सितंबर 02, 2015

केंद्र में धन्नासेठों की सरकार : मुट्ठीभर लोगो को लाभ पहुँचाने की नीति बनाती है सरकार : मायावती

लखनऊ बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की अध्यक्ष
मायावती ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और प्रतिपक्षी पार्टियों, खासकर कांग्रेस पार्टी के बीच भारी कटुता व राजनीतिक टकराव से देश के समक्ष संकट की परिस्थिति उत्पन्न होने की आशंका जताई है। मायावती ने संसद में मोदी सरकार द्वारा विपक्षी दलों के साथ किए गए रवैये को लोकतंत्र के लिए खतरनाक बताया।
बीएसपी मुखिया ने मोदी सरकार को पूंजीपतियों व धन्नासेठों व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के इशारों पर चलने वाली सरकार करार दिया है।

मायावती ने कहा, 'सत्ताधारी दल बीजेपी व सरकार में बैठे उसके शीर्ष नेतृत्व ने अपने ऊपर 'ललितमोदीगेट' व 'व्यापम खूनी महाघोटाला' के संबंध में देश की वाजिब चिंताओं व भ्रष्टाचार के संबंध में सटीक तर्कों के आधार पर लोगों को संतुष्ट करने की अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाई।' उन्होंने कहा कि ललितमोदीगेट व व्यापम खूनी महाघोटाले के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खामोशी को देश की जनता 'सत्ता का अहंकार' मानती है। उन्होंने कहा कि सैनिकों के संबंध में 'वन रैंक वन पेंशन' का कानून बन जाने के बावजूद उसे लागू नहीं कर मोदी सरकार ने इस बारे में भी चुनावी वादा अभी तक नहीं निभाया। मायावती ने कहा, इस संबंध में केंद्र सरकार को सर्वोच्च न्यायालय में बार-बार फटकार व
अवमानना भी झेलनी पड़ रही है।

कुल मिलाकर यह वादाखिलाफी करने वाली सरकार साबित हो रही है। जीएसटी को देशहित में न बताते हुए उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार का यह तर्क भी सही नहीं है कि नया संशोधित भूमि अधिग्रहण कानून व जीएसटी के बिना देश का विकास अवरुद्ध हो रहा है, क्योंकि वर्ष 1998 से वर्ष 2009 के दौरान 11 वर्षों तक इन दोनों ही कानूनों के बिना ही भारत ने साढ़े 8 प्रतिशतकी विकास दर से तरक्की की थी।

मायावती ने कहा कि देश के समस्त गरीबों, मजदूरों, किसानों, बेरोजगारों को खासतौर से और दलितों, पिछड़ों व धार्मिक अल्पसंख्यकों को आमतौर से यह समझ लेना चाहिए कि बीजेपी व नरेंद्र मोदी की सरकार केवल बड़े-बड़े पूंजीपतियों व धन्नासेठों व आरएसएस के ही इशारों पर चलने वाली सरकार है। इनके अलावा यह सरकार किसी की भी होने वाली नहीं है।

मायावती ने कहा कि यही कारण है कि केवल इन्हीं मुठ्ठी भर लोगों को लाभ पहुंचाने वाली नीति व कार्यक्रमों को लागू करने में यह सरकार पूरी जी-जान से लगी हुई है और इनके लिए ही नए- नए कानून व नियम बनाती जा रही है। मायावती ने नई दिल्ली की प्रमुख सड़कों में से
एक 'औरंगजेब रोड' का नाम बदलकर पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के नाम पर किए जाने के फैसले को गलत परंपरा की शुरुआत बताते हुए इसकी निंदा की।

उन्होंने कहा कि मुगल शासक औरंगजेब व भारतरत्न अब्दुल कलाम दोनों ही अपने-अपने समय में खास महत्व रखने वाली शख्यित हैं और ऐसे.एक व्यक्ति के नाम को हटाकर दूसरे व्यक्ति के नाम पर सड़क का नामकरण करना संकीर्ण मानसिकता को प्रदर्शित करता है। मायावती ने कहा कि अब्दुल कलाम के नाम पर किसी नई सड़क या किसी दूसरी सड़क का नामकरण किया जाना चाहिए और औरंगजेब रोड का नाम फिर से बहाल कर दिया जाना चाहिए।

केंद्र में धन्नासेठों की सरकार : मुट्ठीभर लोगो को लाभ पहुँचाने की नीति बनाती है सरकार : मायावती Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Kamal Singh Kripal

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।