बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

सितंबर 18, 2015

टैक्सपेयर्स को 7-10 दिनों में इनकम टैक्स रिफंडमिलना हुआ संभव, टेक्नोलॉजी का है असर

नई दिल्ली। लाखों टैक्सपेयर्स के लिए गुड न्यूज है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट अब महज 7-10 दिनों में टैक्सपेयर्स को रिफंड भेज रहा है। ऐसा इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम को लेटेस्ट टेक्नोलॉजी से अपग्रेड करने और Aadhaar आधारित ITR वेरिफिकेशन के सफलतापूर्वक काम करने की वजह से संभव हुआ है। इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन ई- फाइलिंग सिस्टम बेहद कस्टमर फ्रेंडली है। इसकी अनुपस्थिति में पहले रिफंड प्राप्त करने में कई महीने और कई मामलों में कई साल लग जाते थे।

टैक्सपेयर्स ने डिपार्टमेंट की पहल का किया स्वागत आधार या अन्य बैंक डाटाबेस के जरिए डिपार्टमेंट की इस हालिया पहल को असेसमेंट ईयर 2015-16 के लिए आईटीआर फाइल करने वालों ने हाथोंहाथ लिया है। इससे इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को टैक्सपेयर्स के बैंक अकाउंट में रिफंड भेजने में 15 दिन से भी कम समय लग रहा है। इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन ई-फाइलिंग सिस्टम बेहद कस्टमर फ्रेंडली अब वो दिन गए जब आईटी रिफंड पाने में कई महीने और कुछ मामलों में कई साल लग जाते थे। 

नए इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन ई- फाइलिंग सिस्टम बेहद कस्टमर फ्रेंडली है और इस कारण डिपार्टमेंट एक सप्ताह या अधिकतम 10 दिनों में रिफंड भेजने में सक्षम हो रहा है। इन कार्यों से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि टेक्नोलॉजी के कारण देश में टैक्स सिस्टम कुशल बन रहा है और आगे और अच्छी व्यवस्था संभव होगी। 7 सितंबर तक डिपार्टमेंट को ई-फाइलिंग के जरिए 2.06 करोड़ रिटर्न प्राप्त नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक, 7 सितंबर, 2015 तक डिपार्टमेंट को ई-फाइलिंग के जरिए 2.06 करोड़ रिटर्न प्राप्त हुए हैं। पिछले साल की तुलना में यह 26.12 फीसदी अधिक है, जब 1.63 करोड़ रिटर्न ऑनलाइन फाइल हुए थे। 7 सितंबर रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख थी।

7 सितंबर तक 22.14 लाख टैक्स पेयर्स को रिफंड जारी 7 सितंबर तक डिपार्टमेंट के सेंट्रल प्रोसेसिंग सेंटर ने 45.18 लाख रिटर्न प्रोसेस करते हुए 22.14 लाख टैक्स पेयर्स को रिफंड जारी कर दिए थे। इस दौरान डिपार्टमेंट ने इलेक्ट्रॉनिक तरीके से 32.95 लाख ई-रिटर्न की जांच कर ली थी। इस बार प्रति मिनट ई-रिटर्न फाइल करने की संख्या 3475 इस बात प्रति मिनट ई-रिटर्न की संख्या 3475 रिटर्न तक पहुंच गई, जबकि पिछले साल यह संख्या 2901 थी। डिपार्टमेंट को मिले सबूतों से भी इस बात की पुष्टि हुई है कि टैक्सपेयर्स को तेज गति से रिफंड मिल रहा है। पीएटीआई ने भी कई सारे लोगों से बात की, जिसमें पता चला कि आईटीआर फाइल करने के महज 11 से 13 दिनों में उन्हें रिफंड मिल गया।

टैक्सपेयर्स को 7-10 दिनों में इनकम टैक्स रिफंडमिलना हुआ संभव, टेक्नोलॉजी का है असर Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Kamal Singh Kripal

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।