बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

बेसिक शिक्षा परिषद के अंतर्गत विद्यालयों के लिए वर्ष 2018 की आधिकारिक अवकाश तालिका जारी : Download Official Holiday List

अगस्त 28, 2015

श्रद्धालु कर रक्षाबन्धन के दिन तक कर सकेंगे पवित्र छड़ी के दर्शन ।

राजौरी । दशनामी अखाड़ा पुंछ से वीरवार सुबह वैदिक मंत्रों के साथ निकाली गई पवित्र छड़ी यात्रा शाम को बाबा बुड्डा अमरनाथ पहुंची। यहां पर महामंडलेश्वर राजगुरु 1008 स्वामी विश्वात्मानंद सरस्वती जी महाराज ने पूजा-अर्चना कर पवित्र छड़ी को स्थापित किया। श्रद्धालु रक्षा बंधन के दिन तक पवित्र छड़ी के दर्शन कर सकेंगे। रक्षा बंधन के अगले दिन पवित्र छड़ी को वापस दशनामी अखाड़ा पुंछ पहुंचाया जाएगा।

पवित्र छड़ी यात्र में विभिन्न धार्मिक संगठनों के सदस्यों व श्रद्धालुओं के साथ उपमुख्यमंत्री डॉ. निर्मल सिंह मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। जबकि परिवहन मंत्री अब्दुल गनी कोहली, सांसद जुगल किशोर शर्मा, एमएलसी यशपाल शर्मा, विधायक रवींद्र रैणा भी यात्र में उपस्थित थे। दशनामी अखाड़ा पुंछ में विशेष पूजा अर्चना के बाद स्वामी विश्वात्मानंद सरस्वती पवित्र छड़ी को लेकर पंडाल में पहुंचे, जहां पर मौजूद हजारों श्रद्धालुओं ने पवित्र छड़ी के दर्शन किए। इसके बाद कड़ी सुरक्षा के बीच स्वामी जी पवित्र छड़ी को लेकर बाबा बुड्ढा अमरनाथ के लिए रवाना हो गए। शाम तीन बजे पवित्र छड़ी बाबा बुड्ढा अमरनाथ पहुंची, जहां पर विभिन्न संगठनों के सदस्यों ने यात्रा का स्वागत किया गया।

स्वामी जी ने वैदिक मंत्रों के बीच श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए पवित्र छड़ी को बाबा बुड्ढा अमरनाथ में स्थापित किया। यहां रक्षा बंधन तक श्रद्धालु पवित्र छड़ी के दर्शन करेंगे। रक्षा बंधन के अगले दिन पवित्र छड़ी को वापस दशनामी अखाड़ा पुंछ पहुंचाया जाएगा। इस अवसर पर एसएसपी पुंछ जेएस जौहर, जिला आयुक्त निसार असलम वानी भी मौजूद थे। पुंछ से लेकर बाबा बुड्ढा अमरनाथ 22 किलोमीटर मार्ग पर विभिन्न संगठनों के साथ-साथ स्थानीय लोगों ने मिलकर श्रद्धालुओं के लिए स्टॉल भी लगाए गए थे। वहीं, पुंछ मंडी से थोड़ा पहले सेना के जवानों एवं अधिकारियों ने भी पवित्र छड़ी का जोरदार स्वागत किया।

श्रद्धालु कर रक्षाबन्धन के दिन तक कर सकेंगे पवित्र छड़ी के दर्शन । Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Kamal Singh Kripal

वैधानिक चेतावनी

इस ब्लॉग/वेबसाइट की सभी खबरें व शासनादेश सोशल मीडिया से ली गई हैं । कृपया खबरों / शासनादेशों का प्रयोग करने से पहले वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें | इसमें ब्लॉग एडमिन की कोई जिम्मेदारी नहीं है | पाठक खबरों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा | किसी भी वाद - विवाद की स्थिति में उच्च न्यायालय इलाहाबाद का अंतिम निर्णय मान्य होगा ।